Advertisement

कोरोना रोगियों की संख्या में कमी, स्थिति भी नियंत्रण में

दिन के दौरान, 3,075 नए रोगी पाए गए। चालीस लोगों की मौत हो गई। राज्य में मृत्यु दर 2.57 है।

कोरोना रोगियों की संख्या में कमी, स्थिति भी नियंत्रण में
SHARES

आंकड़े सामने आए हैं जो राज्य के लिए एक राहत की बात है जो कोरोना से  (Coronavirus) जूझ रहा है।  राज्य में एक बार फिर नए कोरोना रोगियों में गिरावट और कोरोना-मुक्त रोगियों (Corona patients)  की संख्या में वृद्धि देखी गई है। सोमवार को राज्य में 7,345 मरीजों को उनके घर भेजा गया।  कोरोना मुक्त रोगियों की संख्या 17 लाख 30 हजार 715 तक पहुंच गई है। इसलिए, रिकवरी  93.28 है।  4 हजार 757 नए मरीज दिन के दौरान पाए गए।  चालीस लोगों की मौत हो गई।  राज्य में मृत्यु दर 2.57 है।

मरीज़ो की संख्या में गिरावट

अब तक कुल मरीजों की संख्या 18 लाख 52 हजार 266 तक पहुंच गई है।  इलाज करवाने वाले मरीजों की संख्या भी घटकर 80,000 रह गई है।  पिछले कुछ दिनों से जारी इस गिरावट को देखना राहत की बात है।  फाइजर ने भारत में फाइजर द्वारा विकसित कोरोनावायरस वैक्सीन का उपयोग करने की अनुमति मांगी है।  कंपनी की भारतीय शाखा ने भारतीय दवाइयों के नियंत्रक (DCGI) के लिए आवेदन किया है।  हालांकि, इसके लिए आवेदन करते समय कंपनी द्वारा लगाई गई शर्तों के कारण, सभी घोड़ों को रोक दिया गया है और कहा जा रहा है कि फाइजर कोरोना वैक्सीन के लिए अनुमति प्राप्त करना संभव नहीं है।

यूके में फाइजर (Pfizer) को अनुमति दी गई है।  तो बहरीन है। संयुक्त राज्य अमेरिका में भी, कंपनी ने आपातकाल के मामले में वैक्सीन का उपयोग करने की अनुमति के लिए आवेदन किया है।  कंपनी ने भारत में आवेदन करते समय एक शर्त लगाई है।  अगर किसी मरीज पर इस दवा के कारण गंभीर दुष्प्रभाव होते हैं तो कंपनी जिम्मेदारी नहीं लेगी।  कंपनी ने कहा है कि सरकार को जिम्मेदारी लेनी चाहिए।

यह भी पढ़ेBharat Bandh: मुंबई में बस, ऑटो और टैक्सी नहीं होंगे बंद

Read this story in English or मराठी
संबंधित विषय
मुंबई लाइव की लेटेस्ट न्यूज़ को जानने के लिए अभी सब्सक्राइब करें