Advertisement

महंगाई की एक और मार, सब्जियों के दाम बढ़े

सब्जियों की सप्लाई कम होने के कारण मुंबई और आसपास के इलाको में सब्जियों के दामों में बढ़ोत्तरी हो रही है

महंगाई की एक और मार, सब्जियों के दाम बढ़े
(File Image)
SHARES

आम जनता पर मंहगाई की मार लगातार बढ़ती जा रही है। एक ओर जहां केंद्र सरकार ने पैकेटवाली खानेवाली चीजों के दामो में  5 फिसदी जीएसटी लगाने का फैसला किया है तो वही अब मुंबई और आसपास के इलाको में सब्जियो के दाम में भी बढ़ोत्तरी हो रही है। 

लगातार हो रही बारिश  के कारण सब्जियों की सप्लाई और पैदावार पर असर पड़ा है।  पिछले एक हफ्ते में पूरे महाराष्ट्र में लगातार बारिश के कारण मुंबई में सब्जियों की आपूर्ति कम हो गई है। हालांकि, खबरों की मानें तो आने वाले दिनों में अगर बारिश कम नहीं हुई तो सब्जियों के दाम और बढ़ सकते हैं।

नवी मुंबई में कृषि उत्पाद बाजार समिति (APMC )बाजार में सब्जियों की कुल आपूर्ति में 40 फीसदी की गिरावट आई है। शुक्रवार को पत्तेदार सब्जियों के दामों में करीब 20 फीसदी की ही बढ़ोतरी हुई थी। भारी बारिश के कारण खरीदार भी बाजार में नहीं पहुंच पा रहे थे; इसलिए, मांग और आपूर्ति दोनों में कमी आई थी जिससे किसानों और थोक विपणक को नुकसान हुआ था।

इसके अलावा, थोक बाजार में आपूर्ति में और गिरावट आई क्योंकि सप्ताहांत में 5 प्रतिशत जीएसटी के खिलाफ एक दिवसीय सांकेतिक हड़ताल थी। सोमवार, 18 जुलाई को, खुदरा में फूलगोभी की कीमतें 100 रुपये प्रति किलोग्राम तक पहुंच गईं, जबकि ड्रम स्टिक 80 रुपये से 120 रुपये प्रति किलो के बीच बिक रही हैं।

8 जुलाई तक लगभग 700 ट्रक और टेंपो सब्जी ढोते थे। अब करीब 500 वाहन आ रहे हैं। 18 जुलाई को एपीएमसी को सब्जियों से लदे कुल 455 वाहन मिले। हालांकि, उनमें से अधिकांश छोटी पिकअप वैन थीं जो कम मात्रा में उत्पादन करती थीं। उन लोगों के लिए, मुंबई की सब्जी की आपूर्ति मुख्य रूप से नासिक, पुणे, कोल्हापुर, सांगली और पश्चिमी महाराष्ट्र और कर्नाटक के अन्य स्थानों से होती है।

यह भी पढ़े- बीएमसी ने किया इस साल 12,200 से ज्यादा गड्ढों को भरने का दावा

Read this story in English or मराठी
संबंधित विषय
मुंबई लाइव की लेटेस्ट न्यूज़ को जानने के लिए अभी सब्सक्राइब करें