मुंबई में केवल जून महिने में स्वाइन फ्लू के 107 मामले

 Mumbai
मुंबई में केवल जून महिने में स्वाइन फ्लू के 107 मामले

पिछलें साल जहां मुंबई में डेंगू-मलेरिया से लोग पिड़ीत थे तो वही इस साल स्वाइन फ्लू धीरे धीरे अपना कहर बरपा रहा है। इस साल सिर्फ जून में ही स्वाईव फ्लू से प्रभावित 107 नए मरीज़ों का आकड़ा दर्ज किया गया है। इस बीमारी से अब तक तीन लोगों की मौत हो चुकी है। मुंबई में पिछलें 6 महिनों में177 स्वाइन फ्लू के मरीजों को दर्ज किया गया है। जिसमें साल लोगों की मौत हो गई है।

हालही में 63 वर्षीय वरिष्ठ नागरिक और अंधेरी की 75 वर्षीय वरिष्ठ महिला का 7 जून को स्वाइन फ्लू के कारण निधन हो गया। 63 वर्षीय व्यक्ति को बुखार और तीन से चार दिन तक श्वास लेने में परेशानी थी। इसलिए उन्हें 4 जून को बीएमसी अस्पताल में भर्ती कराया गया था। उनके इलाज के बाद उन्हें स्वाइन फ्लू का पता चला था। हालांकी स्वाइन फ्लू के कारण 7 जून को उनकी मृत्यु हो गई थी

इसके अलावा, अंधेरी की 75 वर्षीय बुजुर्ग महिला स्वाइन फ्लू के कारण भी मर गई है। यह महिला कई वर्षों से दिल की समस्याओं से पीड़ित थी। चूंकि वह साँस लेने में असमर्थ थी, इसलिए उसे 7 जून को अस्पताल में भर्ती कराया गया था। लेकिन 13 जून को उसका निधन हो गया।

इसलिए डॉक्टरों का कहना है कि मुंबई में स्वाइन इन्फ्लूएंजा की वजह से होने वाली मौतों का कारण बुढ़ापे में होनेवाली बीमारियां काफी बड़ा कारण है। इस साल मुंबई में 177 मरीज़ पाए गए जबकि 34 मामले मुंबई के बाहर थे। मुंबई में से चार की मृत्यु हो गई है।

डेंगू के 128 मामले

जून 2016 में, मलेरिया के 482 मामले पाए गए थे। तो वही जून 2017 में 166 मामले दर्ज किए गए। डेंगू ने इस साल 14 मरीजों को पंजीकृत किया है। यह संख्या पिछले साल 48 थी। जनवरी से 15 जून तक, डेंगू के 128 मरीज़ पाए गए हैं। तो लेप्टो के 6 मरीज़ों की संख्या 6 है।

स्वाईन फ्लू अस्पतालों की संख्या-
मुंबई में

वर्ष मरिज    मृत्यु
2017  177   7
2016 3 0
2015 3,029 52

मुंबई बाहर के मरिज

वर्ष      मरिज     मृत्यु
2017      34      4
2016       0      0
2015      591     62

Loading Comments