सीएसटी FOB हादसा: दो कार्यरत इंजीनियर निलंबित, 3 सेवानिवृत्त पर विभागीय जांच के आदेश

आपको बता दें कि इस हादसे के बाद खुद मुख्यमंत्री देवेंद्र फडणवीस ने मीडिया से बात करते हुए दोषियों पर कड़ी कार्रवाई करने की बात कही थी। इसके अलावा विपक्ष भी इस हादसे को लेकर कड़ा रुख अख्तियार करते हुए सत्ता पक्ष को घेरने में लगा था।

SHARE

सीएसटी फुटओवर ब्रिज हादसा मामले में दो कार्यरत इंजीनियरों का निलंबन किया गया है, जबकि रिटायर हो चुके तीन लोगों पर विभागीय जाँच के आदेश दिए गए हैं. जिन पांच लोगों पर गाज गिरी हैं  उनमें मुख्य अभियंता, उपमुख्य अभियंता और सहायक अभियंता शामिल हैं। निलंबित होने वालों में कार्यरत मुख्य अभियंता ए. आर. पाटील और सहायक अभियंता एस.एफ काकुलते हैं जबकि सेवा निवृत्त हो चुके इंजीनियरों में मुख्य अभियंता एस.ओ.कोरी और उपमुख्य अभियंता आर. बी. तारे व एआई इंजीनियर हैं. सेवा निवृत्त होने वाले तीनों अभियंताओं की विभागीय जांच के आदेश दिए गए हैं।

इन सभी को इस हादसे का जिम्मेदार मानते हुए इन्हें निलंबित किया गया है। इसके साथ ही ब्रिज के स्ट्रकचर का ऑडिट करने वाले देसाई कंसल्टेंट कंपनी को ब्लैक लिस्ट कर दिया गया है, जबकि ब्रिज बनाने वाले आरपीएस कंपनी को नोटिस भेज कर उन्हें जवाब मांगा गया है।

आपको बता दें कि इस हादसे के बाद खुद मुख्यमंत्री देवेंद्र फडणवीस ने मीडिया से बात करते हुए दोषियों पर कड़ी कार्रवाई करने की बात कही थी। इसके अलावा विपक्ष भी इस हादसे को लेकर कड़ा रुख अख्तियार करते हुए सत्ता पक्ष को घेरने में लगा था।

इस हादसे के लिए आजाद मैदान पुलिस ने रेलवे और बीएमसी के संबंधित अधिकारियों पर गैर इरादतन हत्या (304) के तहत केस दर्ज किया गया है। आपको बता दें कि गुरुवार शाम 7:30 बजे सीएसटी प्लेटफॉर्म 1 के करीब बना एफओबी के बीच का हिस्सा अचानक से गिर पड़ा। जिसमें 6 लोगों की मौत हो गयी और 33 लोग घायल हो गए हैं।

संबंधित विषय
ताजा ख़बरें