पोस्ट ऑफिस में वीआईपी करते हैं नौकरी

कांदिवली - मुंबई के पश्चिमी उपनगर के १२ पोस्ट ऑफिस के भ्रष्टाचार की गजब कहानी सामने आई है । पोस्ट ऑफिस ने यूपी के सीएम अखिलेश यादव उनके चाचा रामगोपाल यादव बीजेपे नेता राम कदम पूर्व गृह मंत्री नेता आर.आर पाटील , पूर्व उपमुख्यमंत्री और एनसीपी अजित पवार जैसे नाम के लोगो को अपना कर्मचारी बताया और उन्हें 7000 रुपए वेतन भी दिया जाता था । इतना ही नहीं पोस्ट ऑफिस का भ्रष्टाचार ऐसा की भ्रस्टाचार के खिलाफ लड़ने वाले किसन बापूराव हजारे उर्फ़ अन्ना हजारे के नाम को भी नहीं छोड़ा । ये लोग मुम्बई के गोरेगाव पोस्ट ऑफिस और पश्चिमी उपनगर के अन्य कई पोस्ट ऑफिस में मेलमैन (डाकिया / डिलीवरी बॉय) का काम करते है ।

दरअसल पोस्ट ऑफिस के दस्तावेजो के मुताबिक यह सभी यहाँ काम करते थे पर हकीकत में यह नाम और काम करने वाले अलग अलग है । पोस्ट ऑफिस ने इनके नाम का फर्जी इस्तेमाल किया । जो युवक इन पोस्ट ऑफिस में हकीकत में काम करते थे उन्हें इन मशहूर लोगो के नाम के सामने हस्ताक्षर करना पड़ता था। एक आरटीआई के द्वारा इस बात का खुलासा हुआ।

Loading Comments