क्रिकेटर श्रीसंत को राहत, आजीवन बैन घट कर हुआ 7 साल

भारतीय क्रिकेट कंट्रोल बोर्ड (बीसीसीआई) ने श्रीसंत पर लगा बैन को घटा कर 7 साल कर दिया है। अब यह बैन अगले साल समाप्त हो जायेगा।

SHARE

कथित रूप से  स्पॉट फिक्सिंग मामले में प्रतिबंध झेल रहे भारत के तेज गेंदबाज एस. श्रीसंत के लिए रहत भरी खबर है। भारतीय क्रिकेट कंट्रोल बोर्ड (बीसीसीआई) ने श्रीसंत पर लगा बैन को घटा कर 7 साल कर दिया है। अब यह बैन अगले साल समाप्त हो जायेगा। इसके बाद श्रीसंत क्रिकेट में वापसी कर सकते हैं। आपको बता दें कि IPL में कथित तौर पर स्पॉट फिक्सिंग के आरोप में BCCI ने श्रीसंत सहित राजस्थान रॉयल्स के अजीत चंदीला और अंकित चव्हाण पर साल 2013 में प्रतिबंध लगा दिया था। 

'श्रीसंत सर्वश्रेष्ठ दौर पहले ही खो चुके हैं'
लोकपाल डी.के जैन ने अपने फैसले में कहा कि अब श्रीसंत 35 पार के हो चुके हैं। श्रीसंत का प्रतिबंध अगले साल अगस्त में खत्म हो जाएगा, क्योंकि वह 6 साल से चले आ रहे प्रतिबंध के कारण अपना सर्वश्रेष्ठ दौर पहले ही खो चुके हैं। मेरा मानना है कि किसी भी तरह के व्यावसायिक क्रिकेट या बीसीसीआई या उसके सदस्य संघ से जुड़ने पर श्रीसंत पर लगा प्रतिबंध 13 सितंबर 2013 से सात बरस का करना न्यायोचित होगा।’ 

'श्रीसंत के खिलाफ कोई सबूत नहीं'
इसी मामले में बॉम्बे हाईकोर्ट ने इसी साल 15 मार्च को बीसीसीआई की अनुशासन समिति का फैसला बदल दिया था। इसके पहले बीसीसीआई ने ही 28 फरवरी को न्यायालय में कहा था कि श्रीसंत पर लगा आजीवन प्रतिबंध सही है, क्योंकि उन्होंने मैच के परिणाम को प्रभावित करने की कोशिश की थी। जबकि श्रीसंत के वकील ने श्रीसंत पर लगाए गए आरोपों को बेबुनियाद बताते हुए कहा कि, श्रीसंत के खिलाफ कोई सबूत भी नहीं मिला है क्योंकि आईपीएल मैच के दौरान कोई स्पॉट फिक्सिंग नहीं हुई थी।

संबंधित विषय