युवा क्रिकेटर ने की आत्महत्या

क्रिकेट में कैरियर (career in cricket) न बना पाने के कारण मलाड (malad) के एक क्रिकेटर ने आत्महत्या (suicide) कर ली। क्रिकेटर का नाम करण तिवारी था।

युवा क्रिकेटर ने की आत्महत्या
SHARES

क्रिकेट में कैरियर (career in cricket) न बना पाने के कारण मलाड (malad) के एक क्रिकेटर ने आत्महत्या (suicide) कर ली। क्रिकेटर का नाम करण तिवारी था। इस मामले में कुरार पुलिस (kurar police) ने आकस्मिक मौत (ADR) का मामला दर्ज किया है। हालांकि पुलिस को कोई सुसाइड नोट (sucide note) नहीं मिला है।

करण केे रिश्तेदारों ने कहा कि, करण क्रिकेट में ही अपना कैरियर बनाना चाहता था। लेकिन उसे अवसर नहीं मिल पा रहा था, वह कई सालों से IPL का हिस्सा बनना चाहता था, लेकिन उसमें भी असफल रहा। इसी के कारण वह काफी तनाव में रहा करता था।

करण मुंबई में आईपीएल (IPL) मैचों के लिए पिछले कई सालों से कोशिश कर रहे थे। उन्होंने इसके लिए कड़ी मेहनत की थी। लेकिन मार्च में, मुंबई में कोरोना (Coronavirus) का प्रकोप बढ़ गया और भारत के बजाय दुबई (dubai) में आईपीएल (IPL) खेला जाना तय किया गया। इस अवसर को हाथ से गंवाने के बाद करण मानसिक तनाव में आ गया था। आखिरी बार उसने राजस्थान में अपने एक दोस्त के पास फोन किया था। उसने उसे बताया कि वह डिप्रेशन में है और उसके पास आत्महत्या करने के अलावा कोई चारा नहीं है। हालांकि उस समय, राजस्थान उस दोस्त ने करण को मनाने की बहुत कोशिश की, लेकिन करण अपने फैसले को लेकर अडिग था।

इसके बाद राजस्थान के उस दोस्त ने यह बात करण की बहन को बताया। और करण की बहन ने अपनी मां को सारी बात बताई।  लेकिन तब तक समय निकल चुका था।

रात को खाना खाने के बाद, करण तिवारी साढ़े दस बजे अपने कमरे में गए और अंदर से दरवाजा बंद कर लिया। तो वहीं बहन के द्वारा सूचना देने पर करण की मां करण के कमरे की ओर भागी।

लेकिन दरवाजा अंदर से बंद था, काफी देर तक खटखटाने पर जब दरवाजा नहीं खुला तो दरवाजा तोड़ा गया। अंदर का नजारा देखकर सबके होश उड़ गए। करण का शव लटका हुआ था।

इस घटना की सूचना पुलिस को देने के बाद कुरार पुलिस मौके पर पहुंची। उन्होंने करण के शरीर को पोस्ट मार्टम के लिए अस्पताल भेज दिया। अब पुलिस आगे की जांच कर रही है।

Read this story in English or मराठी
संबंधित विषय