555 रुपये की टिकट के लिए दलाल ने लिये 5555 रुपये

रेलवे पुलिस ने दलाल को गिरफ्तार कर लिया है

555 रुपये की टिकट के लिए दलाल ने लिये 5555 रुपये
SHARES

लोकमान्य तिलक टर्मिनस( ltt) से गुवाहाटी (guwahati) तक सफर करनेवाले एक यात्री को दलाल ने अपनी ठगी का शिकार बना लिया। एक रेलवे यात्री से दलाल (agent)ने 555 रुपये की टिकट की जगह  5 हजार 500 रुपये वसूल लिये। इस मामले में रेलवे पुलिस ने संजयकुमार दुबे नाम के एक दलाल को गिरफ्तार किया है।   लोकमान्य तिलक टर्मिनस से गुवाहाटी तक की ट्रेन में सफर करने के लिए जनरल डब्बे का किराया  555 रुपये है लेकिन  संजयकुमार दुबे ने यात्री को यही टिकट  5 हजार 500 रुपये में बेचा। 

आरक्षित टिकट देने के नाम पर लूट

मोहम्मद शरीफ नाम के यात्री को लोकमान्य तिलक टर्मिनस से गुवाहाटी किसी जरुरी काम के लिए जाना था। लेकिन उसके पास किसी तरह कोई भी टिकट नहीं था।  लिहाजा जब वह टिकट विंडो पर गया तो उसे एक दलाल मिला जिसने उसे टिकट दिलान का भरोसा दिया। दलाल ने पहले तो मोहम्मद  से टिकट के लिए 1700 रुपये की मांग की , मोहम्मद ने उसे 1500 रुपये दिये और बाकी टिकट मिलने के बाद का देने को कहा।  दलाल ने पहले तो पैसे लिये फिर बाद में कहने लगा की जनरल डब्बे की टिकट नहीं मिलेगी , एसी डब्बे का टिटक लेना होगा। दलाल ने ये कहकह  मोहम्मद से और 2000 रुपये मांगे।  

कही और का दिया टिकट

मोहम्मद ने उसे पैसे दे दिये। इसके बाद भी दलाल ने उसे एक बार फिर से 1000 रुपये देने के लिए कहा। मोहम्मद को किसी भी तरह गुवाहाटी जल्दी पहुंचना था तो उसने 1000 रुपये दलाल को दिये। आखिर में दलाल ने मोहम्मद को टिकट दिया लेकिन उससे फिर से 1000 रुपये मांगे और कहा की टिकट को स्टेशन के बाहर जाकर देखे।  मोहम्मद ने दलाल को फिर से 1000 रुपये दिये। इस तरह कुछ मोहम्मद में दलाल को 5500 रुपये दिये। हालांकी जब मोहम्मद ने बाहर जाकर टिकट देखा तो उसे टिकट कही और मिला था। वापस जाकर जब उसनेे दलाल के लोकमान्य तिलक से देहरादून के लिए टिकट मांगा तो दलाल ने उसे 555 गैरआरक्षित तिकट दिया । 

मोहम्मद को पता लगा की दलाल ने उसे अपने जाल में फंसाया है तब उसके इसकी शिकायत रेलवे पुलिस से की। जिके बाद पुलिस ने दलाल को गिरफ्तार कर लिया।  

यह भी पढ़ेमंगलवार को बीएमसी पेश करेगी बजट

Read this story in मराठी
संबंधित विषय