अपह्त बच्चा सकुशल बरामद

सीएसटी - पुलिस की क्राइम ब्रांच ने एक तीन महीने के बच्चे के अपहरण मामले का पर्दाफाश करते हुए एक महिला समेत तीन लोगों को गिरफ्तार किया है। बच्चे का अपहरण बिल्कुल फिल्मी अंदाज में किया गया था। सन्नी नाम के आरोपी ने 29 सितंबर को कामा हॉस्पिटल के पास रहने वाली मोती विकणार्या चिकू नाम की महिला से फिल्म की शूटिंग के लिए छोटे बच्चे की जरूरत की बात कही। चिकू ने उसे सविता बोबबडे नाम की महिला से मिलाया जिसके पास 3 महीने का बच्चा था। आरोपी ने उसे बताया कि 3 घंटे की शूटिंग के बदले उसे 15 हजार रुपए मिलेंगे। सन्नी और उसके साथी पंकज वाघेला ने बच्चे को ले लिया और उन्हें बाद में ताज होटल के पास मिलने को कहा। लेकिन आरोपी बच्चे को लेकर ताज होटल नहीं पहुंचे। काफी खोजबीन के बाद जब बच्चा नहीं मिला तो बच्चे की मां ने आजाद मैदान पुलिस स्टेशन में मामला दर्ज करवा दिया। पुलिस की कड़ी मशक्कत के बाद दोनों आरोपियों को नालासोपारा से गिरफ्तार कर लिया गया। साथ ही बच्चे को खरीदने वाली आशा हेगड़े नाम की महिला को भी विरार से पकड़ लिया। आशा की पहले से ही चार बच्चियां हैं। उसने अपने पति से प्रेग्नेंट होने की बात कही थी और बताया था कि इस बार उसे लड़का ही होगा। जिसके लिए उसने सन्नी से बच्चे के बदले 40000 रुपए का सौदा किया था।

Loading Comments