नकली पुलिस बन कर पैसे एंठने वाला गिरफ्तार

 Dadar
नकली पुलिस बन कर पैसे एंठने वाला गिरफ्तार
नकली पुलिस बन कर पैसे एंठने वाला गिरफ्तार
नकली पुलिस बन कर पैसे एंठने वाला गिरफ्तार
See all

लोकल और लंबी दूरी की ट्रेनों (मेल/एक्स्प्रेस) से बिना टिकट यात्रा करने वाले एक शख्स को पकड़ा गया है। मजे की बात यह है कि यह शख्स बिना टिकट यात्रा तो करता साथी ही नकली पुलिस बन कर लोगों के टिकट भी चेक करता और बिना टिकट लोगों से पैसे भी वसूल करता। आरोपी का नाम सचिन सोनावने (30) है जो अब जीआरपी की हिरासत में हैं।


कैसे हुआ भांडाफोड़

प्राप्त खबर के अनुसार मध्य रेलवे के दादर स्टेशन पर मंगलवार को जब हावड़ा मेल रुकी तो तथाकथित जितेन्द्र भालेराव यानी सचिन सोनावने ने थर्ड एसी डिब्बे से उतरे धनंजयकुमार यादव नाम के एक यात्री से चेक करने के लिए टिकट मांगा। भालेराव ने पुलिसिया रोब झाड़ते हुए धनंजय से उसका टिकट मांगा, लेकिन दोनों में किसी बात को लेकर वाद विवाद शुरू होगा गया। जिससे वहां भीड़ जमा हो गई और मौके पर आरपीएफ के जवान पहुंच गये। धनंजय ने सारी बात आरपीएफ वालों को बताई। आरपीएफ वालों ने जब भालेराव से उसका पहचान पत्र मांगा तो भालेराव वहां से हड़बड़ी में निकलने लगा। जिससे आरपीएफ ने भालेराव को पकड़ लिया।


यह भी पढ़े : नकली टीसी गिरफ्तार


मिली नकली आईडी

जब पुलिस ने सोनावने की तलाशी ली तो उसके पास नकली आईडी मिली। सोनावने ने ठाणे रूरल पुलिस के नाम से एक नकली पुलिस आईडी बनवाया था। इस आईडी के अनुसार सोनावने का नाम भालेराव जितेन्द्र था। वह इसी आईडी के बल पर सब पर धौंस जमाता था।


पूछताछ में भालेराव ने अपना असली नाम सचिन सोनवाने बताया। सचिन ने आगे बताया कि वह इसी तरह से मुफ्त में यात्रा करता और बेटिकट यात्रियों से पैसे वसूल करता था।


डाउनलोड करें Mumbai live APP और रहें हर छोटी बड़ी खबर से अपडेट।

मुंबई से जुड़ी हर खबर की ताज़ा अपडेट पाने के लिए Mumbai live के फ़ेसबुक पेज को लाइक करें।

(नीचे दिए गये कमेंट बॉक्स में जाकर स्टोरी पर अपनी प्रतिक्रिया दे) 

 



Loading Comments