• कब मिलेगा आशियाना?
  • कब मिलेगा आशियाना?
  • कब मिलेगा आशियाना?
SHARE

घाटकोपर - रामजी नगर के रहिवासियों ने अपना घर पाने के लिए रविवार से आंदोलन शुरु किया है। सिंहगड और सिंधुदुर्ग सहकारी गृहनिर्माण संस्था झोपड़ीधारकों को 2006 में विकासक के साथ करार कर झोपड़पट्टी पुनर्निर्माण करने के लिए झोपड़ा दिया। अभी झोपड़पट्टी के लोग एक ट्रांजिट कैंप में रह रहे हैं। इस जगह पर अभी तक सिर्फ दो मंजिला इमारत ही बंधी है। जिसके बाद झोपड़पट्टी पुनर्विकास कार्यालय से रहिवासियों ने शिकायत की। झोपडपट्टी पुनर्विकास कार्यालय का कहना है कि पास में ही विमानतल होने के कारण यहां 22 मंजिला इमारत की इजाजत नहीं दी गई है। सोसायटी के अध्यक्ष प्रभाकर शेट्टी का कहना है कि 350 झोपड़ाधारक अभी आंदोनल कर रहे हैं और जब तक हमारे घर हमें नहीं मिल जाते तब तक हम आंदोलन करते रहेंगे।

संबंधित विषय
ताजा ख़बरें