गूगल पे पर रिचार्ज करने के नाम पर 80 हजार की धोखाधड़ी, पुलिस कर रही जांच

सायबर चोरों मे अनिल नाम के एक शख्स से ट्रांजेक्शन चेक करने के नाम पर पैसो की धोखाधड़ी की

SHARE

जहां एक ओर  डिजिटल भुगतान सुविधा के कारण  वित्तीय लेनदेन आसान हो गया है, तो वही दूसरी ओर  िसमें धोखाधड़ी के मामले मे भी सामने आते जा रहे है। साय़बर चोरो ने एक बार से पवई इलाके में रहनेवाली एक औरत के खाते से 80 हजार रुपये निकाल लिये।  महिला ने पुलिस में शिकायत दर्ज कराई है और पुलिस इस मामले की आगे जांच कर रही है।

मुल रुप से झारखंड के रहनेवाले अनिल यादव अंधेरी के एक होटल में चालक के रुप में काम करते है।  यादव ने अपने पत्नी के मोबाईल पर 6 मार्च को अपनी पत्नी के मोबाईल पर गुगल पे के जरिये 119 रुपये का रिचार्ज किया।  गुगल पे से अनिल ने अपना युनियन बैक का उकाउंट लिंक किया था।  रिचार्ज करते ही उसके मोबाइल पर 119 रुपये कट होने का मैसेज आय़ा। हालांकी पैसे कटने के बाद भी उसकी पत्नी का फोन रिचार्ज नहीं हुआ जिसके बाद अनिल ने गुरल पे के कस्टमर केयर में फोन किया, फोन कट होने के बाद उसे फिर से सामने से फोन आया और सामनेवाले ने अपने आप को गुगल कस्टम केयर से संबंधित बताया।  

सामनेवाले शख्स ने अनिल को बताया की कुछ तकनीकी कारणों की वजह से उसका रिचार्ज नहीं हो पाया है और फिस शख्स ने अनिल को 10000 रुपये भेजने के लिए कहा और फिर उसे वापस देने के लिए भी कहा। अनिल ने भरोसा करते हुए 10000 रुपये ट्रांसफर कर दिये।   पैसे ट्रांसफर करने के बाद भी सामनेवाले श्खस ने अनिल को फिर फोन कर कहा की उसके पैसे गुगल पे पर नहीं आ रहे है और ऐसा कहते हुए सामनेवाले शख्स ने अनिल को बार बार पैस भेजने के लिए कहा और इस तरह सायबर चोरो ने अनिल से 80000 हजार रुपये निकाल लिये।   

अनिल ने इसकी शिकायत पवई पुलिस स्टेशन में की है और पुलिस फिलहाल इसकी जांच कर रही है।  

यह भी पढ़े- नकली सोना देकर व्यापारी के साथ धोखाधड़ी करनेवाल गिरफ्तार

संबंधित विषय
ताजा ख़बरें