​​'डैडी' फर्लो की छुट्‌टी पर जेल से आए बाहर, अब इंतजार...

अंडरवर्ल्ड डॉन अरुण गवली उर्फ 'डैडी' 28 दिनों की फर्लो छुट्टी पर नागपुर जेल से रिहा होने के बाद घर लौट आए, जहां उनका जोरदार स्वागत किया गया। डैडी के परिवार के सदस्यों ने शुक्रवार को दगडी चॉल में एक भव्य पारंपरिक तरीके से उनका स्वागत किया। बाद में वह दगडी चॉल में स्थित मंदिर में दर्शन के लिए पहुंचे। इस अवसर पर बड़ी संख्या में उनके शुभचिंतक और दगड़ी चॉल के निवासी उपस्थित थे।

गवली इस वक्त शिवसेना नगरसेवक कमलाकर जामसंडेकर की हत्या के आरोप में नागपुर सेंट्रल जेल में बंद है। उसे उम्रकैद की सजा हुई है। नियमानुसार साल में सभी कैदी को दो बार फर्लो की छुट्‌टी का निवेदन कर सकते हैं। इस अधिकार का इस्तेमाल करते हुए गवली ने जेल अधीक्षक से छुट्‌टी मांगी थी, मगर उसके निवेदन को ठुकरा दिया गया था। जिसकी वजह से गवली ने नागपुर खंडपीठ से छुट्‌टी की गुहार लगाई थी। इस पर सुनवाई करते हुए बुधवार को नागपुर खंडपीठ ने कहा कि साल में फर्लो की छुट्‌टी पाने का सभी कैदी को अधिकार है। इसके साथ ही गवली की फर्लो की छुट्‌टी को अदालत ने मंजूरी दे दी।

यह भी पढ़ें -'डैडी' पर 'मम्मी' से खास बातचीत

गवली को पुलिस ने जामसंडेकर हत्याकांड में 20 मई 2008 को गिरफ्तार किया गया था। राज्य सरकार भी गवली को फर्लो की छुट्‌टी देने के विरोध में थी। बाहर आने के बाद उन्होंने कहा कि कुछ दिन पहले ही फर्लो छुट्टी के लिए आवेदन किया था, लेकिन मुंबई में बीएमसी चुनाव के चलते उनका आवेदन खारिज कर दिया गया था।

गवली के डॉन से 'डैडी' बनने की कहानी
1993 में हुए मुंबई बम धमाकों के बाद अंडरवर्ल्ड का पूरा सीन ही बदल गया। धमाकों के पहले ही उस वक्त का अंडरवर्ल्ड डॉन दाऊद इब्राहिम कासकर दुबई भाग गया। दाऊद और छोटा राजन अलग पड़ गए। छोटा राजन ने भी मलेशिया में अपना कारोबार शुरू कर दिया। इससे गवली को मुंबई पर राज करने का पूरा मौका मिला। शुरुआती दौर में गवली का राज सेंट्रल मुंबई की दगली चाल में चलने लगा। उसके गैंग में सैकड़ों की तादाद में क्रिमिनल शामिल हुए। 80 और 90 के दशक में गैंगस्टर एक्टीविटीज के लिए बदनाम भायकुला स्लम एरिया में मौजूद दगड़ी चाल में कभी गवली का घर है। दूध बेचकर परिवार चलाने वाला गवली इसी चाल से बना जुर्म की दुनिया का बादशाह। वह अपने चाहने वालों के बीच 'डैडी' के नाम से जाना जाता है।

Mumbai live APP और रहें हर छोटी बड़ी खबर से अपडेट।

Mumbai live के फ़ेसबुक पेज को लाइक करें।

अरुणगवली
फर्लोछुट्‌टी
दगडीचॉल
Loading Comments