• कुछ दोस्तों ने अपने ही दोस्त के साथ यह क्या कर दिया...
SHARE

डोंगरी - डोंगरी पुलिस ने 22 साल के युवक मोहम्मद मोदिजुल के अपहरण में चार लोगों को गिरफ्तार किया है। ये सभी दोस्त हैं जिन्होंने मोदिजुल को पैसों की लालच में किडनैप कर लिया था। गिरफ्तार चारों आरोपियों के नाम शमिउल्ला शेख,मोहम्मद शहनशाह, फिरोज राईन और मुकेश राईन है।

जोन एक के डीसीपी मनोज शर्मा ने जानकारी देते हुए बताया कि जिस युवक का अपहरण हुआ, उसके तीन और भाई हैं। सभी का कपड़े का बिजनस है। डोंगरी में उनका कपड़े का गोडाउन भी है। सबसे छोटा भाई 3 फरवरी को रात में गोडाउन गया। लेकिन देर रात तक वह नहीं लौटा। बाद में एक भाई के पास अपहृत भाई के मोबाइल नंबर से फोन आया कि तुम्हारा भाई हमारे कब्जे में है। सात लाख रुपये दो अन्यथा उसकी लाश मिलेगी। फौरन पुलिस को इस फिरौती वाले कॉल की सूचना दी गई। बाद में अलग-अलग अपहरणकर्ताओं द्वारा भी परिवार वालों को फोन किए जाते रहे। अपहरणकर्ताओं ने पहले परिवार वालों को फिरौती की रकम के लिए रे रोड, फिर वडाला, फिर किंग सर्किल बुलाया। बाद में उन्होंने फिरौती की रकम एक खास जगह पर छोड़ने को कहा, जिसे परिवार वालों ने यह कह कर वहां छोड़ने से मना कर दिया कि पहले मेरा भाई दिखाओ। उसके बाद अपहरणकर्ताओं द्वारा कॉल्स करनी बंद कर दी गईं। डीसीपी मनोज शर्मा ने आगे बताया कि अपहरणकर्ता जिस तरह परिवार वालों से बात कर रहे थे, उससे पुलिस को शक हो गया कि इस अपहरणकांड के पीछे कोई परिचित है। इसके बाद पुलिस ने इन परिचितों के बारे में जानकारी निकालनी शुरू की दी। इसी में 26 साल का मोहम्मद शमीउल्लाह शेख पुलिस की गिरफ्त में आया। उससे पूछताछ के बाद फिर तीन अन्य आरोपी मोहम्मद शहनशाह, मोहम्मद फिरोज रईन व मुकेश राईन को गिरफ्तार किया गया। बाद में मोदिजुल को धारावी के एक घर से रेसक्यू कराया गया।

संबंधित विषय
ताजा ख़बरें