SHARE

मंत्री कोटा से म्हाडा में फ्लैट दिलाने के नाम पर तीन लोगों ने एक व्यापारी के साथ धोखाधड़ी की वारदात को अंजाम दिया है। पुलिस इस मामले में कौशिक शहा, प्रमोद सालकर और निलेश पलंगे नाम के तीन आरोपियों की तलाश कर रही है।

65 लाख 38 हजार की धोखधड़ी

चांदिवली में रहनेवाले प्रकाश राजपूत एक नये घर की तलाश में थे, म्हाडा में सस्ते में घर मिल जाए इसलिए उन्होने म्हाडा में फॉर्म भी भरा था। तीनों आरोपियों को प्रकाश के बारे में जानकारी मिली, तीनों ने प्रकाश को मंत्री कोट से घर दिलाने के नाम पर धोखाधड़ी की। तीनों ने प्रकाश को बांद्रा के कलानगर स्थित म्हाडा के कार्यालय के पास बुलाया और प्रकाश को विश्वास में लेकर उसके साथ 65 लाख 38 हजार की धोखाधड़ी की वारदात को अंजाम दिया।

कोर्ट का दरवाजा खटखटाया

कुछ दिनों तक जब प्रकाश को घर नहीं मिला तो उन्होने इन तीनों आरोपियों से संपर्क किया। कुछ दिनों बाद तीनों आरोपियों ने प्रकाश को झूठा आश्वासन देने लगे , जब प्रकाश को लगा की उसे धोखाधड़ी का शिकार बनाया गया है तो प्रकाश ने कोर्ट में मामला दायर किया। कोर्ट ने तीनों के खिलाफ खेरवाड़ी पुलिस को मामला दर्ज करने का आदेश दिया।


यह भी पढ़े- फाइनेंस कंपनी को करोड़ो रुपये का चुना लगानेवाले गिरोह को क्राइम ब्रांच ने किया गिरफ्तार

संबंधित विषय
ताजा ख़बरें