PMC Bank Crisis: पूर्व चेयरमैन वरयाम सिंह गिरफ्तार, ED ने भी की कार्रवाई

ईडी ने वरयाम सिंह के बैंक खाते भी फ्रीज कर दिए हैं, साथ ही लगभग 10 करोड़ रुपये के बचत जमा राशि भी जब्त कर ली है।

SHARE

पंजाब एवं महाराष्ट्र कोऑपरेटिव (PMC) बैंक में 4,355 करोड़ रुपये की हेराफेरी करने के मामले में मुंबई की आर्थिक अपराध शाखा (EOW) ने बैंक के पूर्व चेयरमैन एस वरयाम सिंह (waryam singh) को गिरफ्तार किया है, उन्हें 9 तक पुलिस हिरासत में रखा गया है। इस मामले में वरयाम सिंह शुरु से ही लापता थे। आखिर वरयाम सिंह को पुलिस ने उन्हें माहिम इलाके से गिरफ्तार किया। हालांकि गिरफ्तारी से पहले वरयाम ने सरेंडर करने की बात कही थी। ईडी ने वरयाम सिंह के बैंक खाते भी फ्रीज कर दिए हैं, साथ ही लगभग 10 करोड़ रुपये के बचत जमा राशि भी जब्त कर ली है।

पढ़ें: PMC Bank Crisis: बैंक और HDIL के अधिकारीयों के खिलाफ दर्ज हुआ केस

पुलिस के अनुसार वरयाम सिंह ने आर्थिक अपराध शाखा को पत्र लिखा था जिसमें उन्होंने कहा था कि वह आत्मसमर्पण कर देंगे लेकिन उसके आत्मसमपर्ण करने से पहले ही पुलिस ने उसे गिरफ्तार कर लिया। बताया जाता है की पुलिस वरयाम सिंह से हाउसिंग डेवलपमेंट एंड इंफ्रास्ट्रचर लिमिटेड (HDIL) में 4,335 करोड़ रुपये की धोखाधड़ी मामले में पूछताछ करेगी।  

इसके पहले विजिलेंस डिपार्टमेंट ने दावा किया था कि HDIL के चेयरमैन राकेश वाधवान और उनके बेटे सारंग वाधवान के प्राइवेट जेट के साथ 60 करोड़ रुपये मूल्य के ज्वेलरी जब्त कर लिया गया है। एक अधिकारी के मुताबिक़ वाधवान की अन्य संपत्तियों को जब्त करने की तैयारी की जा रही है। इसी मामले में HDIL के प्रोमोटर के खिलाफ पीएमसी बैंक के 4,355 करोड़ रुपये की हेराफेरी करने का मामला भी दर्ज करवाया है। एजेंसी ने एचडीआईएल प्रोमोटर के खिलाफ भी मामला दर्ज करवाया है और HDIL से जुड़ीं 18 अन्य कंपनियों की भी जाँच जारी है।

ED ने  राकेश वधावन के बांद्रा स्थित ऑफिस और आवास सहित मुंबई में छह जगहों पर छापेमारी की थी, यही नहीं वरयाम सिंह और पीएमसी बैंक के प्रबंध निदेशक जॉय थॉमस के बंगलों पर भी छापा मारा गया था। जॉय थॉमस को शुक्रवार को ही गिरफ्तार किया गया था, जिसके बाद अदालत ने शनिवार को 17 अक्टूबर तक पुलिस हिरासत में रखे जाने की अनुमति दी।

पढ़ें: PMC बैंक से अब निकाले 10 हजार रुपए , RBI ने नोटिफिकेशन जारी किया

संबंधित विषय
ताजा ख़बरें