आरपीएफ कर रही कड़ी कार्रवाई , इस साल 225 स्टंटबाजों पर हुई कार्रवाई


SHARE

मुंबई की लोकल ट्रेनों में बढ़ती हुई स्टंटबाजी को रोकने के लिए आरपीएफ भी कड़ी कार्रवाई कर रही है। इस साल अभी तक इस तरह के मामलों में आरपीफ ने 225 स्टंटबाजों पर कार्रवाई की है। आपको बता दें कि बुधवार को एक वीडियो वायरल हुआ जिसमें दो युवक लोकल ट्रेन में स्टंटबाजी करते नजर आ रहे हैं।

हो रही है कार्रवाई 
इस तरह के मामलों को रोकने के लिए आरपीएफ ने भी कमर कस ली है। यही नहीं पीक ऑवर में यात्री को ट्रेन में ग्रुप द्वारा नहीं चढ़ने देना, मोबाइल चोर गैंग के साथ साथ महिलाओं से छेड़छाड़ करने के खिलाफ भी आरपीएफ कार्रवाई कर रही है।

नाबालिग छात्र भी शामिल 
एक आंकड़े के मुताबिक आरपीएफ ने साल 2017 अभी तक 761 लोगों पर कार्रवाई की जो ट्रेन में स्टंटबाजी कर रहे थे। इन स्टंटबाजों में कई नाबालिग भी शामिल हैं जिन पर जुवेनाइल एक्ट द्वारा कार्रवाई की गयी। यही नहीं ये नाबालिग बच्चे आगे फिर से ऐसी हरकत न करें इसीलिए इनके पैरेंट्स को बुला कर उनसे शपथपत्र पर साइन भी करवाया गया। स्टंट करने में जिन लोगों को आरपीएफ ने पकड़ा उनमे सबसे अधिक गोवंडी और मानखुर्द में रहने वाले शामिल हैं जिनमे स्कूल और कॉलेज जाने वाले छात्र भी हैं। आरपीएफ ने दवा किया है कि  कार्रवाई करने से स्टंटबाजों में कमी आई है।

कार्रवाई करना होता है मुश्किल 
इस रोकने के लिए आरपीएफ ने बताया कि हर स्टेशन पर आरपीएफ के चार जवानों को तैनात किया गया है जो स्टंटबाजों की तस्वीर खींच लेते हैं और उन्हें सूचित करते हैं जो जवान अगले स्टेशन पर तैनात रहते हैं। और वहीं इन स्टंटबाजों को गिरफ्तार कर लिया जाता है। आरपीएफ के मुताबिक ट्रेन के चलते समय उन पर कार्रवाई करना मुश्किल होता है क्योंकि स्टंटबाज डर कर ट्रेन से कूद भी सकते हैं। अगर कुछ हादसा होता है तो इसका जिम्मेदार पुलिस को ही माना जाता है।  


यह भी पढ़ें: चेतावनियों के बाद भी मुंबई लोकल में नहीं रुक रहा स्टंट का भूत!


संबंधित विषय
ताजा ख़बरें