सीबीएम की प्रिंसिपल ने किया आरटीई घोटाले का पर्दाफाश

 Antop Hill
सीबीएम की प्रिंसिपल ने किया आरटीई घोटाले का पर्दाफाश

एंटॉप हिल - एंटॉप हिल में सीबीएम स्कूल की प्रिन्सिपल ने उनके स्कूल में आरटीई के तहत प्रवेश के लिए दाखिल नामांकन में बड़े घोटाले का पर्दाफाश किया है। इस मामले में स्कूल की प्रिन्सिपल रिबेका शिंदे की शिकायत पर एंटॉप हिल पुलिस दो दलालों के साथ छह परिजनों को भी गिरफ्तार किया है, जिसमें पांच महिलाएं शामिल हैं।
18 मार्च को सायन कोलीवाडा के सीबीएम स्कूल में पहली क्लास में प्रवेश का अंतिम दिन था, इस दिन बड़ी संख्या में आरटीई के अंतर्गत प्रवेश के लिए नामांकन पत्र स्कूल में दाखिल किए गए थे। इसकी जांच करने पर रिबेका शिंदे को इनमें कई गलतियां नजर आई, जिसकी जांच करने के लिए वो खुद ही नकल पड़ी।


'शुरुआत में जन्म प्रमाणपत्रों में गड़बड़ी नजर आई, जिसके लिए मैं शिक्षण विभाग के पास गई, उन्होंने मेरा सहयोग किया, लेकिन कहा कि आप का काम एडमीशन देना है। जिसके बाद में एफ -उत्तर वॉर्ड ऑफिस के स्वास्थ्य विभाग के में पहुंची जहां उन्होंने हमारा अच्छा सहयोग किया। परिजनों द्वारा स्कूल में जमा किए जन्म प्रमाणपत्र और वॉर्ड ऑफिस के जन्म प्रमाणपत्र में विभिन्नता पाई गई। जिसके बाद हमने इस बारे में एंटॉप हिल पुलिस स्टेशन में मामला दर्ज करवाया।'


इस मामले में एंटॉप हिल पुलिस ने कामरुथीन शेख (37), युनूस बाजा(42) इन दो दलालों ते साथ इमरान सय्यद (32) फरजान (29) मुमताज (37), साइन (40) जरीना (37) और राबिया (26) नाम के परिजनों को गिरफ्तार कर लिया। इन परिजनों पर अपनी संपत्ति दिखाने में हेरफेर करने का शक है। खासकर जिन परिजनों ने आरटीई के तहत नामांकन दाखिल किया है वे करोड़ों के घरों में रहते हैं और सुविधा संपन्न हैं।

Loading Comments