मुंबई एटीएस ने बम विस्फोट की साजिश रचने के आरोप में मुन्नाभाई को किया गिरफ्तार

दिल्ली पुलिस और यूपी एटीएस द्वारा पकड़े गए 6 आतंकियों की जांच में कई चौंकाने वाले खुलासे हो रहे हैं

मुंबई एटीएस ने बम विस्फोट की साजिश रचने के आरोप में मुन्नाभाई को किया गिरफ्तार
SHARES

दिल्ली पुलिस (Delhi police) और यूपी एटीएस (UP ATS) द्वारा पकड़े गए 6 आतंकियों की जांच में कई चौंकाने वाले खुलासे हो रहे हैं। इस मामले में मुंबई एटीएस ने एक आरोपी को गिरफ्तार किया है। आरोपी की पहचान इमरान उर्फ 'मुन्नाभाई' के रूप में हुई है, जिसे मुंब्रा इलाके से गिरफ्तार किया गया है। समझा जाता है कि गिरफ्तार आतंकी का नाम इमरान उर्फ मुन्नाभाई है।

मुम्ब्रा इलाके से किया गिरफ्तार

मुंब्रा इलाके में एटीएस ने छापा मारा। खुफिया सूत्रों के मुताबिक आतंकवादी ट्रेन पर गैस हमले की योजना बना रहे थे। इस अलर्ट के बाद जीआरपी ने मुंबई के सभी प्रमुख रेलवे स्टेशनों पर सुरक्षा बढ़ा दी है। स्टेशन के मुख्य द्वार को छोड़कर सभी गेट बंद कर दिए गए। एटीएस ने इमरान उर्फ मुन्नाभाई को गिरफ्तार कर कोर्ट में पेश किया।

इस मामले में मुंबई एटीएस ने जाकिर हुसैन शेख को गिरफ्तार किया था। तीन दिन पहले दिल्ली पुलिस की स्पेशल सेल ने एक पाकिस्तानी आतंकी मॉड्यूल का भंडाफोड़ किया था। उस वक्त 6 आतंकियों को गिरफ्तार किया गया था। उसके बाद महाराष्ट्र आतंकवाद निरोधी दस्ते और मुंबई पुलिस की अपराध शाखा ने संयुक्त अभियान में जोगेश्वरी से एक संदिग्ध को गिरफ्तार किया था।

अभी तक मिली जानकारी के मुताबिक पकड़े गए आतंकी मोहम्मद शेख उर्फ समीर कालिया के पास से जाकिर ने हथियार और विस्फोटक जब्त किया था।मुंबई-दिल्ली एटीएस की टीम देशभर में छापेमारी कर अंडरकवर आतंकियों को गिरफ्तार कर रही है. महाराष्ट्र एटीएस ने जाकिर शेख को दिल्ली पुलिस को सौंपे बिना उसके खिलाफ अलग से मामला दर्ज किया है। इसलिए 2 दिन की कस्टडी मिलने के बाद वह कुछ दिनों तक मुंबई एटीएस की कस्टडी में रहेगा।

कार्रवाई को लेकर दिल्ली पुलिस के साथ उनकी बहस हुई थी। इस साजिश का पर्दाफाश दिल्ली पुलिस ने किया था और उनकी टीम जाकिर को पकड़ने के लिए मंगलवार को मुंबई पहुंची थी। हालांकि, वह नहीं मिला। एटीएस की कस्टडी खत्म होने के बाद उन्हें जाकिर का कब्जा मिल सकता है। तब तक हमें एटीएस की जानकारी पर निर्भर रहना होगा।

चार दिन पहले दिल्ली पुलिस ने जान मोहम्मद शेख और पांच अन्य आतंकियों को गिरफ्तार किया था। ऑपरेशन को महाराष्ट्र, दिल्ली और उत्तर प्रदेश में एक साथ अंजाम दिया गया। जान मोहम्मद पिछले 20 साल से दाऊद इब्राहिम गिरोह से जुड़ा हुआ है। वह फिलहाल अनीस इब्राहिम के संपर्क में है।

जांच के अनुसार, अहमद को उन्हें मुंबई, उत्तर प्रदेश और दिल्ली में हमले करने के लिए हथियारों की आपूर्ति करनी थी। दिल्ली पुलिस की जांच में मामला सामने आते ही महाराष्ट्र एटीएस ने इसे गंभीरता से लेते हुए स्वतंत्र जांच शुरू कर दी। इस बीच एक और आतंकी को गिरफ्तार किया गया है।

यह भी पढ़े- मुंबई ,पालघर, ठाणे और तटीय इलाको में कुछ दिनो तक लगातार बारीश की चेतावनी

Read this story in English or मराठी
संबंधित विषय
मुंबई लाइव की लेटेस्ट न्यूज़ को जानने के लिए अभी सब्सक्राइब करें