हाथों से बनाया किला

रायगढ़ किला की प्रतिरुप को छात्रों ने तैयार किया

SHARE

बचपन में हम सभी को बालू और मिट्टियों से किले बनाने का शौक रहता है। बालू के साथ साथ रेती और मिट्टी के किले बनाने का भी चलन काफी चलता है। महाराष्ट्र के इतिहास में दिवाली के मौके पर किले बनाने की परंपरा काफी पूरानी है, लिहाजा आज भी मुंबई के साथ साथ शहर के कई हिस्सों में दिवाली के मौके पर बच्चे और युवक किला बनाते है।



किले बनाने के लिए छात्र एक दो महीने पहले से ही प्रशिक्षण लेना शुरु कर देते है। पारंपरिक तरिको के साथ साथ किले बनाने के लिए आधूनिक तरिको का भी सहारा लिया जाता है।


ऐसी ही मजेदार वीडियों को मराठी भाषा में देखने के लिए क्लिक करे हमारे मराठी पेज मुंबई लाइव मराठी पर

संबंधित विषय
ताजा ख़बरें

हाथों से बनाया किला
00:00
00:00