अब कॉलेज लेंगे डिग्री पाठ्यक्रम के पहले और दूसरे वर्ष की परिक्षाएं

विश्वविद्यालय परिषद ने मुंबई विश्वविद्यालय के पहले और दूसरे वर्ष के छात्रों के लिए तीन साल की डिग्री की परीक्षा के लिए विश्वविद्यालय के प्रस्ताव को मंजूरी दे दी है।

SHARE

शैक्षणिक वर्ष 2018-19 से, तीन साल के डिग्री पाठ्यक्रम के पहले और दूसरे वर्ष की परिक्षाएं कॉलेज द्वारा ली जाएगी। विश्वविद्यालय परिषद ने मुंबई विश्वविद्यालय के पहले और दूसरे वर्ष के छात्रों के लिए तीन साल की डिग्री की परीक्षा के लिए विश्वविद्यालय के प्रस्ताव को मंजूरी दे दी है।
कुलपति की अध्यक्षता में समिति का गठन किया जाएगा जो प्रक्रिया में सुधार और परीक्षाओं की गुणवत्ता में सुधार करने के लिए प्रक्रिया का संचालन करेंगे।

कई कॉलेजों ने की थी मांग

पिछले दो वर्षों से, मुंबई विश्वविद्यालय द्वारा प्रथम और द्वितीय वर्ष की डिग्री परीक्षा विश्वविद्यालय द्वारा की जा रही है।परीक्षा कार्यक्रम और प्रश्न पत्र विश्वविद्यालय द्वारा निर्धारित किए जा रहे थे। जिसके कारण ग्रामीण छात्र अपूर्णता शैक्षिक सत्र, नाइट कॉलेज सहीत कई अन्य कॉलेज के छात्रों की मांग थी की तीन साल के डिग्री पाठ्यक्रम के पहले और दूसरे वर्ष की परिक्षाएं कॉलेज द्वारा ली जाए।

इस मांग को देखते हुए विश्वविद्यालय ने पूर्व कुलगुरू डॉ. स्नेहलता देशमुख की अध्यक्षता में एक समिति का गठन किया था। इन समिति ने संबद्धित कॉलेजों से परीक्षाओं, प्रश्न पत्रों, उत्तरपुस्तिकाओं के मूल्यांकन और विश्वविद्यालय के विभिन्न पहलुओं पर सुझाव मांगे।इसे देखते हुए, समिति ने उच्च शिक्षा के संबंध में सिफारिशें की

विश्वविद्यालय के विद्यार्थी विद्यापीठ ने विस्तृत चर्चा के बाद पहले और दूसरे वर्ष के परीक्षा कॉलेजों द्वारा कराए जाने के प्रस्ताव को मंजूरी दी।


यह भी पढ़ेमहिलाओं की तरह पुरुषों को भी मिलेगी चाइल्ड केयर लीव

संबंधित विषय
ताजा ख़बरें