अधिक फीस वसूलने वाले स्कूलों के खिलाफ होगी कार्रवाई - शिक्षा मंत्री

 Dadar (w)
अधिक फीस वसूलने वाले स्कूलों के खिलाफ होगी कार्रवाई - शिक्षा मंत्री

शिक्षा मंत्री विनोद तावड़े द्वारा बार बार निर्देश दिए जाने के बाद भी प्राइवेट स्कूलों द्वारा मनमानी दर पर फीस वसूलने की शिकयतों से पैरेंट्स बेहद नाराज हैं। नाराज अभिभावकों ने पिछले दिनों पुणे में शिक्षा मंत्री विनोद तावड़े का घेराव किया, जिसके बाद सोमवार को उनकी तरफ से प्रेस नोट जारी कर यह कहा गया कि निजी स्कूलों द्वारा फीस वसूली में की जा रही मनमानी को रोकेगी और सरकार मौजूदा कानून में संशोधन करेगी। यही नहीं तावड़े ने कहा कि स्कूलों द्वारा छात्रों को किताबें और अन्य स्कूली सामानों को बेचने पर भी रोक लगाई जाएगी। तावड़े के अनुसार वे शिक्षा का व्यवसायीकरण नहीं होने देंगे।

यह भी पढ़े : फीस मुद्दे पर परिजनो के विरोध के बाद जागा प्रशासन

मनमाने रूप से बढ़ते फीस को लेकर पैरेंट्स का कहना है कि फीस बढ़ाने के अलावा स्कूल कॉपी किताब यूनीफॉर्म, जुते मोज़े सहित अन्य सामान बेच कर भी वसूली कर रहे हैं। इन्हें खरीदने के लिए स्कूल पैरेंट्स को मजबूर करते हैं। अभिभावकों ने मांग की है कि सरकार को इस मामले में दखल देना चाहिए ताकि स्कूलों की मनमानी पर रोक लगाई जा सके।

यह भी पढ़े : स्कूल का फरमान... फीस नहीं तो सीट नहीं

इस मामले में स्कूल संगठनों ने भी अपना पक्ष रखा. सोमवार को मंत्रालय में हुई एक बैठक में स्कूल संचालकों ने फीस बढ़ाने के मामले में अपना पक्ष रखा। तावड़े ने स्कूल संगठनों की मांगों को सुनने के बाद कहा कि स्कूल फीस में बढ़ोतरी का फैसला पैरेंट-टीचर असोसिएशन (पीटीए) की मौजूदगी में लिया जाए। पीटीए के गठन के लिए तय नियमों का कड़ाई से पालन करने तथा उसके गठन की पूरी प्रक्रिया की विडियो रिकार्डिंग करने का भी आदेश दिया गया। तावड़े ने इस संबंध में जल्द ही परिपत्रक जारी करने की बात कही। उन्होंने कहा कि स्कूल द्वारा अधिक फीस वसूले जाने पर पैरेंट्स इसकी शिकायत शुल्क नियंत्रण समिति के पास कर सकते हैं। शिक्षा मंत्री तावड़े ने खुद भी यह माना कि कि मौजूदा शुल्क नियंत्रण कानून में कई सारी खामियां हैं, जिसे दूर करने के लिए कानून में संशोधन बहुत जरूरी है। उन्होंने आश्वासन दिया कि अधिक फीस वसूलने वाले स्कूलों के खिलाफ कार्रवाई की जाएगी।


डाउनलोड करें Mumbai live APP और रहें हर छोटी बड़ी खबर से अपडेट।

मुंबई से जुड़ी हर खबर की ताज़ा अपडेट पाने के लिए Mumbai live के फ़ेसबुक पेज को लाइक करें।

(नीचे दिए गये कमेंट बॉक्स में जाकर स्टोरी पर अपनी प्रतिक्रिया दे) 

Loading Comments