मुंबई बैंक में खाता ना होने की वजह से देर से हो रही है सैलरी !

 Mumbai
मुंबई बैंक में खाता ना होने की वजह से देर से हो रही है सैलरी !

एक ओर शिक्षकों को हर महिने के एक तारिख को पगार देने का आश्वासन दिया गया तो वहीं दूसरी तरफ अभी तक कई शिक्षकों को दो- दो महिनें तक की पगार नहीं दी गई है। कई शिक्षकों को अगस्त और सितंबर के महीने की पगार अभी तक नहीं मिली है। शिक्षको को अब छात्रों की पढ़ाई के साथ साथ अब शिक्षा विभाग के भी चक्कर लगाने पड़ रहे है।

यह भी पढ़े-  स्टूडेंट्स की सुरक्षा के बाबत राज्यमंत्री ने शिक्षा सचिव से मांगी रिपोर्ट

गोवंडी के राधाबाई सोभराज टहीलियाली विद्यालय के कई शिक्षको के बैंक खाते मुंबई बैक में है तो वही दूसरी ओर युनियन बैंक में भी कई शिक्षको के खाते है, हालांकी जिन शिक्षको के बैंक खाते मुंबई बैंक में है उनकी पगार महीने की एक तारिख को बैंक में जमा हो जाते है, लेकिन जिन शिक्षको के खाते युनियन बैंक में है उनके पगार में देरी हो रही है। ऐसे शिक्षको को अब शिक्षा विभाग के चक्कर काटने पड़ रहे है।

यह भी पढ़े-  शिक्षा विभाग ने जारी की 318 फर्जी स्कूलों की लिस्ट

दरअसल शिक्षा विभाग ने एक आदेश जारी करते हुए कहा था की जिन शिक्षको के बैंक खाते मुंबई बैंक में होंगे उन्हे महीने की एक तारिख को पगार दे दी जाएगी। जिसका विरोध कई शिक्षको ने ये कहते हुए किया की मुंबई बैंक में भ्रष्टाचार फैला हुआ है। अब इन शिक्षको को कहना है की मुंबई बैक में खाता ना होने की वजह से इनके पगार में देरी की जा रही है।


डाउनलोड करें Mumbai live APP और रहें हर छोटी बड़ी खबर से अपडेट।

मुंबई से जुड़ी हर खबर की ताज़ा अपडेट पाने के लिए Mumbai live के फ़ेसबुक पेज को लाइक करें।

(नीचे दिए गये कमेंट बॉक्स में जाकर स्टोरी पर अपनी प्रतिक्रिया दें) 

Loading Comments