24 साल बाद खुला आमिर का राज

 Pali Hill
24 साल बाद खुला आमिर का राज
24 साल बाद खुला आमिर का राज
24 साल बाद खुला आमिर का राज
See all

मुंबई - साल 1992 में आई फिल्म ' जो जीता वही सिकंदर ' में आमिर खान ने एक्टिंग का जो नमूना पेश किया था उसकी आज भी दुनिया कायल है, लेकिन इस फिल्म के लिए आमिर खान को फिल्मफेयर अवॉर्ड नहीं मिला था तो वो बेहद दुखी हुए थे। 24 साल बाद आमिर खान के चचेरे भाई मंसूर खान ने ये राज़ खोला है। मंसूर और फिल्म ' जो जीता वही सिकंदर' की स्टारकास्ट शनिवार को मुम्बई में चल रहे मामी फिल्म फेस्टिवल में 'ख़ास परिचर्चा' में भाग लेने आये थे। इस फिल्म को मंसूर ने डायरेक्ट किया था और आमिर खान के चाचा नासिर हुसैन फिल्म के प्रोड्यूसर थे। मंसूर ने बताया कि अनिल कपूर की फिल्म 'बेटा' भी हमारी फिल्म के साथ रिलीज हुई थी लेकिन बेस्ट एक्टर का फिल्म फेयर अवार्ड अनिल कपूर को मिला आमिर को नहीं। इस बात का आमिर को बहुत दुःख हुआ था। आमिर को लग रहा था कि उनके साथ नाइंसाफी हुई है। मंसूर खान के मुतबिक दरअसल फिल्म फेयर की उस साल की ज्यूरी में एक मेम्बर कमल हसन भी थे, जिन्होंने बेस्ट एक्टर, डायरेक्टर और फिल्म पर टिक मार्क किया था। उनका वोट आमिर की जगह अनिल कपूर को गया था।

Loading Comments