आमिर की दहाड़ है 'दंगल'

 Churchgate
आमिर की दहाड़ है 'दंगल'
आमिर की दहाड़ है 'दंगल'
आमिर की दहाड़ है 'दंगल'
आमिर की दहाड़ है 'दंगल'
See all

बॉलीवुड में तो जैसे बॉयोपिक का दौर सा आ गया है, लगातार कई बॉयोपिक आई हैं जो कुछ हद तक सफल भी रही हैं। दंगल फिल्म की लगातार तुलना सलमान खान की सुल्तान फिल्म से की जा रही थी जो एक फिक्शन थी, हलांकि यह काफी सफल भी रही। पर आपको बता दें कि सुल्तान और दंगल की कोई तुलना नहीं है। आमिर खान की बायोपिक 'दंगल' ने जो बेंचमार्क सेट किया शायद वो कोई और फिल्म ना तोड़ पाए। फिल्म में आमिर ने असल जिंदगी के पहलवान महावीर फोगाट का किरदार निभाया है जिसका सपना होता है पहलवानी में मेडल जीतना, पर एक के बाद एक लड़कियां पैदा होने से महावीर फोगाट निराश हो जाता है। पर एक दिन उसकी बेटियां गीता और बबीता सपने को ताजा कर देती हैं। उसके बाद फोगाट अपनी बेटियों को पहलवान बनाता है। फिल्म के जरिए तमाम उन तकलीफों को दिखाया गया है जिनका सामना महावीर ने किया। फिर भी वह अपने उस सपने को अपनी बेटियों में जीता है और कामयाब होता है।

दंगल में आमिर खान ने महावीर फोगाट के रूप में जवान बेटियों के पिता बनने का किरदार बेहतरीन ढंग से निभाया है, उनकी बेटियों के किरदार में फातिमा सना शेख, सान्या मल्होत्रा, ज़ायरा वसीम और सुहानी भटनागर ने भी कमाल का अभिनय किया है। साक्षी तंवर ने फोगाट की पत्नी के किरदार में जान फूक दी है।

नितेश तिवारी ने दंगल की जगजाहिर कहानी के बावजूद फिल्म का बेहतरीन निर्देशन किया है। इसका स्क्रीनप्ले, डायलॉग और ट्रीटमेंट आपको पूरे समय बांधे रखता है।

Loading Comments