#MeToo मामले में नाना पाटेकर को क्लीनचिट मिलने की खबर अफवाह, पुलिस ने बताया

तनुश्री दत्तानेही या प्रकरणाचा पोलिस तपास सुरू असून नाना पाटेकर यांना कुणीही क्लीन चीट दिलेली नाही. नाना पाटेकर यांना काम मिळत नसल्याने त्यांच्या टीमकडून अशा अफवा पसरवल्या जात असल्याचं प्रसिद्धी माध्यमांना सांगितलं.

SHARE

#MeToo आरोपों में फंसे अभिनेता नाना पाटेकर को क्लीन चिट मिलने की खबर पर अब पुलिस ने मात्र अफवाह बताते हुए कहा है कि नाना पाटेकर को कोई भी क्लीन चिट नहीं मिली है। गुरूवार को सोशल मीडिया पर नाना पाटेकर को क्लीन चिट मिलने की खबर के बाद पुलिस ने अपनी ओर से यह बयान जारी किया।आपको बता दें कि अभिनेत्री तनुश्री ने नाना पाटेकर पर शूटिंग के दौरान छेड़छाड़ करने और आपत्तिजनक रूप से छूने का आरोप लगाया था। इस बारे में ओशिवारा पुलिस में चार लोगों के खिलाफ शिकायत भी  दर्ज की  थी।

क्या कहा पुलिस ने?

इस बारे में जोन 9 के पुलिस उपायुक्त परमजीत सिंह दहिया ने कहा कि तनुश्री मामले में नाना पाटेकर को क्लीन चिट मिल गयी है ऐसी अफवाह सोशल मीडिया में फ़ैल रही है। लेकिन इस मामले में नाना को पुलिस की तरफ से कोई भी क्लीनचिट नहीं दी गयी है।

तनुश्री का आया बयान

मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक तनुश्री ने मीडिया से बात करते हुए कहा कि, इस मामले में पुलिस की जांच चल रही है। नाना पाटेकर को काम नहीं मिल रहा है इसीलिए वे इस तरह की अफवाह फैला रहे हैं, उन्हें पुलिस की तरफ से कोई भी क्लीनचिट नहीं मिली है।

क्या था मामला?

गौरतलब है कि #MeToo अभियान के तहत दुनिया भर में कई महिलाओं ने आगे आकर अपने साथ हुए यौन शोषण को सबके सामने बयां किया। इस अभियान से भारत भी नहीं बच पाया। भारत में भी कई महिलाओं ने अपने साथ हुए बुरे अनुभव को साझा किया। इसी कड़ी में तनुश्री ने भी जिक्र करते हुए कहा था कि साल 2008 में फिल्म 'हॉर्न ओके प्लीज' की शूटिंग के दौरान नाना पाटेकर ने उन्हें आपत्तिजनक रूप से छुआ था और उनके साथ छेड़छाड़ की थी। 

इसके बाद बॉलीवुड में सनसनी मच गयी, बवाल के बीच और मीडिया का दबाव बढ़ता देख पुलिस ने इस मामले में नाना पाटेकर सहित चार लोगों के खिलाफ मामला दर्ज किया जिसमें कोरियोग्राफर गणेश आचार्य भी शामिल थे। हालांकि इस मामले में अभी पुलिस की जांच चल ही रही है। 

संबंधित विषय
ताजा ख़बरें