'नाना पाटेकर सहित अन्य आरोपियों का हो नार्को टेस्ट'


SHARE

तनुश्री दत्ता और नाना पाटेकर विवाद में नाना पाटेकर और कोरियोग्राफर गणेश आचार्य सहित दो अन्य आरोपियों के खिलाफ ओशिवारा पुलिस स्टेशन में एफआईआर दर्ज कराई गई है। अब तनुश्री ने अपने वकील के जरिये नाना व अन्य सभी आरोपियों के नार्को, ब्रेन मैपिंग और लाइ डिटेक्टर टेस्ट की मांग की है साथ ही नाना सहित सभी को गिरफ्तार करने की भी मांग की है।


'आरोपी प्रभावित कर सकते हैं गवाहों को' 
तनुश्री के वकील एडवोकेट नितीन सातपुते का कहना है कि इस मामले में नाना के अलावा गणेश आचार्य, निर्माता समी सिद्धिकी और डायरेक्टर राकेश सारंग सभी आरोपी हैं, साथ ही इस मामले में जो मौके पर मौजूद आई विटनस हैं वे सभी लोग नाना और अन्य आरोपियों से डरे हुए हैं, क्योंकि इनकी राजनीतिक पहुंच ऊंची है, इसलिए इन आरोपियों की गिरफ्तारी जल्द से जल्द हो।
 
'फर्जी गवाह कर सकते हैं तैयार' 
नार्को सहित अन्य टेस्ट करने की बात पर सातपुते ने आगे कहा कि घटना के समय मौजूद लोगो पर मीडिया के जरिए आरोपों को झूठा बताए जाने के लिए दबाव डाला जा रहा है। आरोपी फर्जी विटनेस भी ला सकते हैं. इसलिए सही आरोपियों पर टेस्ट किए जाने चाहिए।

क्या है मामला?
आपको बता दें कि तनुश्री का आरोप है कि साल 2008 में जब फिल्म 'हॉर्न ओके प्लीज' के एक गाने की शूटिंग चल रही थी तभी नाना उनके गाना के शुट का हिस्सा नहीं होने के बाद उनके करीब आकर उन्हें आपत्तिजनक ढंग से छुआ और वहां मौजूद गणेश आचार्य, समी सिद्धिकी और राकेश सारंग सहित किसी ने कुछ ने कुछ भी कहा।

पढ़ें: तनुश्री दत्ता - नाना पाटेकर विवाद के बीच स्पॉटबॉय ने कहा, नाना पाटेकर का दिखाने का चेहरा अलग और करने का चेहरा अलग!

संबंधित विषय
ताजा ख़बरें