अइय्यर की भूल और जेठालाल का सपना चकनाचूर!

Mumbai
अइय्यर की भूल और जेठालाल का सपना चकनाचूर!
अइय्यर की भूल और जेठालाल का सपना चकनाचूर!
अइय्यर की भूल और जेठालाल का सपना चकनाचूर!
See all
मुंबई  -  

इस स्वतंत्रता दिवस पर 'तारक मेहता का उल्टा चश्मा' की गोकुलधाम सोसाइटी ने तिरंगा फहराने के लिए किसी विशेष अतिथि को बुलाने की बजाय तय किया कि वे अपने रहवासियों में से ही किसी एक को ये सम्मान देंगे। भिड़े ने एक मीटिंग बुलवाई और सबसे कहा कि वे एक कोई कारण बताएं कि उनको ये सम्मान क्यों दिया जाए।

इस पर अइय्यर ने दलील दी कि वो एक वैज्ञानिक हैं इसलिए ये उनका हक है, तो भिड़े ने बोला कि वो अध्यापक हैं और ज्ञान बांटते हैं तो यह अवसर उन्हें मिलना चाहिए। डॉ. हाथी ने लोंगो के इलाज करने का हवाला दिया, तो तारक ने अपनी किताबों के माध्यम से लोगों का दिल जीतने की बात कही। जेठालाल ने कहा कि वो एक बिजनेसमैन हैं और उसके बिना कोई भी अपना काम नहीं कर सकता।

पर जब महिला मंडल भी अपना क्लेम डालने सामने आयी तो सबने लकी ड्रा निकालने की बात कही। और एक डब्बे में सबके नाम की पर्ची डाल दी गईय़ जब बबिता ने नाम निकाला तो वो जेठालाल का नाम निकला।

खुश जेठालाल ने एक नई ड्रेस बनवाई, अपने दोस्तों और रिश्तेदारों व फोटोग्राफर्स को इस अवसर को देखने के लिए बुलाया। तिरंगा झंडा लाने का काम दिया गया अइय्यर को पर पुलिस की चेकिंग से घबराया अइय्यर उसे रिक्शा में ही भूल कर आ गया।  

15 अगस्त को जब झंडा लगाने का समय आया तब पता चला कि तिरंगा तो आया ही नहीं। बस छिड़ गई जंग जेठालाल और अइय्यर के बीच।

दिलीप जोशी का कहना है, हमारी प्रतिदव्न्दिता तो वर्ल्ड फेमस हैय़ कभी जेठालाल जीतता है तो कभी अइय्यरय़ शूट करने में हमें बहुत मजा आया तो देखने में दर्शकों को और भी मजा आएगा। यह एपिसोड 18 अगस्त को प्रसारित किया जाएगा।

Loading Comments

संबंधित ख़बरें

© 2018 MumbaiLive. All Rights Reserved.