जसलोक हॉस्पिटल एंड रिसर्च सेंटर ने किया अपने पहले किशोरावस्था अस्पताल का शुभारंभ

 Mumbai
जसलोक हॉस्पिटल एंड रिसर्च सेंटर ने किया अपने पहले किशोरावस्था अस्पताल का शुभारंभ

किशोरों के लिए 'लाइटहाउस' क्लिनिक
किशोरावस्था संक्रमण एक ऐसा सवाल है जो समय समय पर लोगों के सामने पैदा होता जा रहा है। जिसे देखते हुए अब जसलोक अस्पताल और अनुसंधान केंद्र ने 11 नवंबर, 2017 को होटल ताज में मुंबई के लाइटहाउस में पहली किशोरावस्था क्लिनिक को लॉन्च किया ।

युवाओं के शारीरिक, मानसिक और भावनात्मक स्वास्थ्य की ओर ध्य़ान देने के अलावा यह क्लिनिक शरीर और मन में होनेवाले बदलाव के बारे में जागरूकता फैलाएगा। साथ ही इन बदलाव को संभालने और स्वास्थ सबंधित समस्याओं को संभालने के लिए भी संवाद प्रदान करेगा।

अकेले भारत में 253 मिलियन किशोरावस्था संक्रमण के शिकार
दुनिया भर में, 1.2 अरब किशोरावस्था के लोग संक्रमण का शिकार है और भारत में ये संख्या 253 मिलियन है। जिसे ध्यान में रखते हुए जसलोक अस्पताल और रिसर्च सेंटर ने इस कार्यक्रम में एक चर्चा का भी आयोजन किया। इस चर्चा में बॉलिवुड अभिनेत्री रवीना टंडन, प्रसिद्ध स्त्रीरोग विशेषज्ञ डॉ. दुरू शाह, लेखक और विश्लेषक अनिरुद्ध दत्ता , मुख्य कार्यकारी अधिकारी जसलोक अस्पताल डॉ. तारांग गिआनचंदानी भी उपस्थित थे।
लाइटहाउसपर इन बातों पर रहेगा ध्यान

  • मासिक धर्म संबंधी विकार, मासिक धर्म में दर्द, प्री-मैनेस्ट्राल सिंड्रोम (पीएमएस), , पीसीओडी जैसे गायनोकॉलॉजिकल
  • शरीर मुँहासे, चिकना त्वचा, मोटापा और शरीर की गंध
  • पोषण संबंधी परामर्श
  • भावनात्मक / व्यवहारिक परामर्श
  • स्वास्थ्य परामर्श
  • गर्भनिरोधक परामर्श
  • प्रजनन और यौन परामर्श
  • सामान्य और विशिष्ट स्वास्थ्य संबंधी चिंताओं की शिक्षा और जागरूकता
Loading Comments