Advertisement

कोरोना के साथ ही मलेरिया, गैस्ट्रो व लेप्टो के मरीजों में भी बढ़ोतरी

मुंबई में नवंबर मध्य से अब तक मलेरिया के 241 मरीज, गैस्ट्रो के 127 और लेप्टो के 23 मरीज सामने आए हैं। खुशी की बात यह है कि इन बीमारियों से नवंबर महीने में एक भी मौत नहीं हुई है।

कोरोना के साथ ही मलेरिया, गैस्ट्रो व लेप्टो के मरीजों में भी बढ़ोतरी
SHARES

मुंबई (Mumbai) में दिवाली के बाद से कोरोना (Coronavirus) के केसेस में फिरसे वृद्धि देखी गई है। जिसके चलते बीएमसी एक बार फिर सजग हो गई है, और इसे रोकने के भरसक प्रयास करने लगी है। पर बीएमसी के चैलेंज और भी बढ़ गए हैं, क्योंकि कोरोना के अलावा शहर में अब मलेरिया, गैस्ट्रो और लेप्टो के मरीजों की संख्या भी एक बार फिर बढ़ने लग गई है। अब बीएमसी को कोरोना को रोकने के साथ ही इन मलेरिया, गैस्ट्रो और लेप्टो जैसी बीमारियों से भी लड़ना होगा। 

मुंबई में नवंबर मध्य से अब तक मलेरिया के 241 मरीज, गैस्ट्रो के 127 और लेप्टो के 23 मरीज सामने आए हैं। खुशी की बात यह है कि इन बीमारियों से नवंबर महीने में एक भी मौत नहीं हुई है। बीएमसी (BMC) द्वारा शुरु की गई उपाय योजना को अच्छा खासा प्रतिसाद मिला है। उनकी इस पहल से कोरोना की रफ्तार धीमी हुई है। बस दिवाली के बाद से जरूर कुछ केस बढ़े हैं।

यह भी पढ़ें: आफिस में जन्मदिन की पार्टी मनाने पर बीजेपी नगरसेवक के खिलाफ मामला दर्ज

बीते साल नवंबर के मध्य में मलेरिया के 299, लेप्टो के 32, डेंग्यू के 180, गैस्ट्रो के 535, हिपेटायटिस के 73 और एच1एन1 के 3 मरीज सामने आए थे। वहीं इस साल 2 से 8 नवंबर की अवधि के दौरान मलेरिया के 90, 9 से 19 नवंबर की अवधि के दौरान 78 और 16 से 22 नवंबर की अवधि के दौरान 81 मरीज सामने आए हैं। वहीं लेप्टो के  2 से 22 नवंबर के दौरान 23 मरीज सामने आए हैं।

यह भी पढ़ें: मुंबई में बढ़ रहे हैं कोरोना के केस, ट्रेंन में हो रही है भीड़ सरकार के लिए बनी परेशानी

Read this story in English or मराठी
संबंधित विषय