एनिमियाग्रस्त बलात्कार पिड़िता के गर्भपात के लिए पिता ने हाईकोर्ट में लगाई गुहार

 Mumbai
एनिमियाग्रस्त बलात्कार पिड़िता के गर्भपात के लिए पिता ने हाईकोर्ट में लगाई गुहार

16 साल की बलात्कार पिड़िता के पिता ने अपनी लड़की के गर्भपात के लिए हाईकोर्ट का दरवाजा खटखटाया है। पिड़िता एनिमिया नाम की बीमारी से ग्रसीत है। जिसके कारण उसकी तबीयत ठिक नहीं रहती है। हाईकोर्ट में याचिका दाखिल करते हुए पिता ने कोर्ट से अपील की है की कोर्ट उसकी बेटी को गर्भपात करने की इजाजत दें।

यह भी पढ़े - सुप्रीम कोर्ट का बड़ा फैसला , 18 साल से कम उम्र की पत्नी के साथ शारीरिक संबंध माना जाएगा रेप


कोर्ट ने याचिका पर सुनवाई करते हुए केईएम अस्पताल को मेडिकल बोर्ड की स्थापना कर पिड़िता की मौजूदा स्थिती की जांच के आदेश दिये।  साथ ही कोर्ट में उसकी मेडिकल रिपोर्ट भी सौंपने को कहा था।  शुक्रवार को मेडीकल बोर्ड ने कोर्ट में अपनी रिपोर्ट सौपते हुए कोर्ट को बताया की बच्चे के 80 प्रतिशत जिवीत रहने के चांसेज है, लिहाजा गर्भपता नहीं कराया जाना चाहीए, हालांकी अभी तक इस पूरे मामले में कोर्ट का फैसला आना बाकी है।

यह भी पढ़े- रेप पीड़ित नाबालिग लड़की को गर्भपात की मिली मंजूरी

26 सप्ताह गर्भवती पिड़िता ठाणें में रहती है। उसके पिता पानबिडी और दूध‌ विक्रेता का कार्य करते है। एक  लड़के ने उसे शादी का सपना दिखाकर उसके साथ बलात्कार किया। आरोपी श्यामलाल के खिलाफ पुलिस में मामला दर्ज करा दिया गया है और उसकी जांच शुरु है। पिड़िता से पूछताछ के बाद लड़की ने पूरी वारदात के बारे में अपने परिजनो को इस बारे में बताया। जिसके बाद परिजनो ने उसे सायन अस्पताल के डॉक्टरो को दिखाया। जांच के बाद पता चला की वह तीन महिने की गर्भवती है। जिसके बाद पिता ने कोर्ट में गर्भपात की याचिका दायर की।


डाउनलोड करें Mumbai live APP और रहें हर छोटी बड़ी खबर से अपडेट।

मुंबई से जुड़ी हर खबर की ताज़ा अपडेट पाने के लिए Mumbai live के फ़ेसबुक पेज को लाइक करें।

(नीचे दिए गये कमेंट बॉक्स में जाकर स्टोरी पर अपनी प्रतिक्रिया दें) 

Loading Comments