मुंबई में 787 हेक्टेयर जमीन पैर बनेंगे सस्ते घर

 Mumbai
मुंबई में 787 हेक्टेयर जमीन पैर बनेंगे सस्ते घर

मुंबई - मुंबई शहर के विकास के लिए सस्ते आवास योजना को प्राथमिकता दी जायेगी। इस मसौदे के तहत सस्ते घर बनेंगे जिसे सामाजिक आवास के रूप में संबोधित किया जाएगा। इसके पहले इन मकानों को 707 हेक्टेयर भूमि पर निर्मित किया जाना था, लेकिन संशोधित नगर योजना के मसौदे में, अब यह मकान कुल 787.28 हेक्टेयर भूमि पर बनाई जायेगी।
इन सस्ते घरों को आर्थिक रूप से गरीब तबके के लिए,निम्न मध्यम वर्ग और किराये के रूप में रहने वाले लोगों को दिया जाएगा। योजना समिति के सदस्य, गौतम चटर्जी ने कहा कि यह प्रस्तावित सस्ती और किफायती आवास योजना को विस्तृत अध्ययन के बाद और शहर की बढ़ती जरूरतों के अनुसार तैयार किया गया है।

1991 के डीसी नियमों के अनुसार, 13 हजार हेक्टेयर भूमि पर कोई विकास कार्य न होने और 11.5 हजार हेक्टेयर भूमि को कृषि के लिए अनुपयुक्त बताया गया है। अब इन जमीनों को जोन वन और जोन टू इस नाम से इसे दो भागों में विभाजन करके जगह को चिन्हित किया गया है और जोन वन में 248.70 तो जोन टू को में 1773.46 हेक्टेयर जगह का समावेश हैं। इन दोनों जमीनों में उसकी उपयोगिता के अनुसार उस पर कार्य किया जायेगा। चटर्जी ने कहा कि इन सभी क्षेत्रों में धारा 33 (8) के तहत किफायती आवास बनाने के लिए निर्माण किया जाएगा।

Loading Comments