पुनर्वास के मुद्दे पर राज्य सरकार के खिलाफ स्लम-निवासियों का विरोध

 Mumbai
पुनर्वास के मुद्दे पर राज्य सरकार के खिलाफ स्लम-निवासियों का विरोध

विले पार्ले - संजय गांधी नगर के न्यायमूर्ति एम सी छांगाला रोड पर रहनेवाले निवासियों ने पुनर्वास की मांग के लिए घरेलू हवाई अड्डे के सामने अपना आंदोलन शुरू किया। रहिवासियों का कहना है कि अगर एमएएमआरडीए ने उनकी मांग को 6 दिनों के अंदर नही माना तो वह इस आंदोलन को और भी तेज कर देंगे। रहिवासी एकता संघ के अध्यक्ष सुभाष गायकवाड़, उत्तम शसने, सुंदर पद्ममुख, शिवानंद पोस्टहे और स्थानीय निवासियों सहित करीब 100 लोगों ने इस आंदोलन में हिस्सा लिया।

22 जुलाई 2014 को, केंद्रीय नागर विमानन मंत्री अशोक गजपति राजू ने महाराष्ट्र सरकार को एक पत्र भेजा था जिसमें उन्होंने कहा था कि राज्य सरकार मुंबई हवाई अड्डे के आसपास बस्तियों का पुनर्वास करे। पत्र में स्पष्ट रूप से कहा गया था कि झोपड़ी-निवासियों के पुनर्वास उनके मौजूदा निवास स्थान पर ही किया जाना चाहिए। राज्य सरकार ने केन्द्र सरकार के सुझावों के अनुसार पुनर्वास योजना को लागू नहीं किया है, रहिवासियों का आरोप है कि राज्य सरकार ने केन्द्र सरकार के सुझावों के अनुसार पुनर्वास योजना को लागू नहीं किया है,

रहिवासियों का कहना है कि यदि राज्य सरकार केंद्र सरकार के सुझावों को लागू करने में विफल हो जाती है, तो 90,000 से अधिक झोपड़पट्टियों के निवासी इस आंदोलन को सड़कों पर ले आएंगे।

Loading Comments