धनतेरस का महत्व


  • धनतेरस का महत्व
SHARE

मुंबई - देश में दीपावली का पर्व बहुत ही हर्षोल्लास से मनाया जाता है। इस पर्व के पहले कई पर्व आते हैं। जैसे कि शारदीय नवरात्रि, दशहरा और धनतेरस। धनतेरस छोटी दीवाली से एक दिन पहले मनाया जाता है। इस दिन लोग खासकर शॉपिंग करते हैं। इस दिन कोई भी समान लेना बहुत ही शुभ माना जाता है। इस साल धनतेरस 28 अक्टूबर को है। धनतेरस पूजा को धनत्रयोदशी के नाम से भी जाना जाता है। धनतेरस का दिन धन्वन्तरि त्रयोदशी या धन्वन्तरि जयन्ती भी होती है। जो आयुर्वेद के देवता का जन्म दिवस के रूप में मनाया जाता है।

धनतेरस हिंदू त्योहारों में बहुत अधिक महत्व रखता है। इस दिन लोग नई चीजें अपने घर लातें है साथ ही इस दिन गणेश लक्ष्मी घर लाएं जाते हैं। इस दिन की मान्यता है कि इस दिन कोई किसी को उधार नहीं देता । इसलिए सभी नई वस्तुएं लातें है। इस दिन लक्ष्मी और कुबेर की पूजा के साथ-साथ यमराज की भी पूजा की जाती है।

संबंधित विषय
ताजा ख़बरें