नरक से बचाएगी नरक चतुर्दशी

 Pali Hill
नरक से बचाएगी नरक चतुर्दशी
नरक से बचाएगी नरक चतुर्दशी
See all

मुंबई - इस साल शनिवार 29 अक्टूबर को नरक चतुर्दशी है। इस दिन चंद्रोदय से सूर्योदय तक अभ्यंगस्नान (उपटन स्नान) किया जाएगा। ठंड के मौसम में त्वचा रूखी हो जाती है। इसके लिए अभ्यंगस्नान एक उत्तम उपाय है। इस दिन शरीर को सुगंधित उपटन लगाकर व तेल मालिश करके गरम पानी से स्नान करना चाहिए। अभ्यंगस्नान करने से बल में वृद्धी व त्वचा तेजस्वी होती है। नरक चतुर्दशी के संबध में एक पौराणिक कथा है। अश्र्विन कृष्ण चतुर्दशी के दिन भगवान श्री कृष्ण ने प्रजा को परेशान करने वाले दानव नरकासुर का वध किया था। मरते वक्त उसने भगवान श्रीकृष्ण से एक इच्छा प्रगट की। आज की तिथी में जो अभ्यंगस्नान करेगा उसे नरक की पीड़ा सहन नहीं करनी पड़ेगी। साथ ही मेरा मृत्युदिन पूरी दुनिया में मनाया जाए।

जिस पर भगवान श्री कृष्ण ने उसे तथास्तू कहा। जिसके बाद से देश में नरक चतुर्दशी के दिन अभ्यंगस्नान की प्रथा शुरु है। इस दिन दीपदान भी किया जाता है।

Loading Comments