पीटा इंडिया की पहली फैशन लुकबुक में अदाह शर्मा और हर्षवर्धन राणे स्टार

 Mumbai
पीटा इंडिया की पहली फैशन लुकबुक में अदाह शर्मा और हर्षवर्धन राणे स्टार

पीपल फॉर द एथिकल ट्रीटमेंट ऑफ एनिमल (पीटा) भारत ने लगभग एक दर्जन स्टाइलिश पोशाकों का प्रदर्शन करते हुए पहली बार शाकाहारी फैशन लुकबुक बनाया है - सभी को फर, चमड़े, ऊन या आकर्षक खालों के बिना बनाया गया है. अद्वितीय अंदाज की मॉडलिंग लंबे समय से पीटा समर्थक रहे दो स्टार द्वारा की गई है: बॉलीवुड सुंदरी अदाह शर्मा और बहुमुखी प्रतिभा के धनी अत्यधिक आकर्षक हर्षवर्धन राणे.

इस सब के लिए धन्यवाद लॉस एंजिल्स स्थित शाकाहारी फैशन ब्रांड डेलिकेट रायन के संस्थापक मेग और कोमी वोरा को जाता है, जो भारतीय उपभोक्ताओं को यह दिखाने के लिए कि पशु-अनुकूल फैशन स्टाइलिश कैसे हो सकता है, सहयोगपूर्ण लुकबुक को पूर्ण करने के लिए अमेरिका से मुंबई आए थे. इसमें पश्चिमी स्टाइल और चमकीली एवं आकर्षक पोशाक दोनों शामिल हैं जिसके लिए भारत जाना जाता है.

शर्मा कहती हैं, ‘‘आप आकर्षक दिख सकते हैं, आप प्यारे दिख सकते हैं, आप किसी की जान लिए बिना गजब के दिख सकते हैं.ङ्कङ्क ‘‘अपनी खुद की चमड़ी में आरामदेह महसूस करें - आपको किसी अन्य जानवर की खाल लेने की जरूरत नहीं है."

राणे कहते हैं, ‘‘आपको फर और चमड़े के बारे में उन्मादी होने की जरूरत नहीं है ... क्योंकि मुझे यकीन है और बहुत आश्वस्त हूं कि आप किसी का बैग या बेल्ट बनने के लिए जिंदा खाल उतरवाना पसंद नहीं करेंगे. तो अगर आप फैशन के प्रति जागरूक हैं ... मैं आपको गारंटी देता हूं कि जो कुछ मैंने अभी पहन रखा है वह बिल्कुल शाकाहारी है."

लुकबुक में पुरुषों और महिलाओं प्रत्येक के लिए पांच अलग-अलग अंदाज हैं: फेस्टिवल वाइब्स, डेट नाइट, डिनर विद फ्रेंड्स, क्लब लाइफ और एथलेशर. शाकाहारी फैशन कई शीर्ष ब्रांडों और डिजाइनरों से विशिष्ट रूप से दर्शाए गए हैं, जिनमें सुप्रा, एडिडास, टॉमी हिलफिगर, जारा, सुपरड्राई, बबीता मल्कानी, रीडिजायन और कई अन्य शामिल हैं.

अधिक से अधिक डिजाइनर अच्छे कारण के लिए शाकाहारी फैशन को गले लगा रहे हैं. जैसा कि पीटा इंडिया द्वारा पता किया गया है - जिसका आदर्श वाक्य है, कि ‘‘जानवर हमारे पहनने के लिए नहीं हैंङ्कङ्क - गायों की खाल के लिए हत्या की जाती है, सांपों को उनकी त्वचा के लिए मार डाला जाता है और फर के लिए मारे गए जानवरों को अक्सर विकृत कर दिया जाता है एवं यहां तक कि जीवित रहते ही उनकी चमड़ी उतार ली जाती है तथा ऊन उद्योग के असहिष्णु श्रमिकों को भेड़ों को फेंकते, पीटते और उनपर गर्म लोहे से ठप्पा लगाते हुए पकड़ा गया है.

लुकबुक फीचर्स की फोटोग्राफी विशेष वर्मा और स्टाइलिंग ईशा अमीन द्वारा की गई है. शर्मा के बालों की सज्जा कृष्ण कामी ने की थी और उनका मेकअप सिद्धेश आर नखाटे द्वारा किया गया था. राणे की केश सज्जा पवन ओ दुग्गल ने बायोटॉप व्यावसायिक उत्पादों का उपयोग करते हुए की और रोहिणी फॉरगार्ड ने उनका मेकअप किया था.


Loading Comments