जयदेव ठाकरे और उद्धव ठाकरे संपत्ति विवाद खत्म, जयदेव ठाकरे ने याचिका ली वापस

जयदेव ने अपने पिता की 2011 में तैयार की गई वसीयत को अदालत में चुनौती दी थी।

SHARE


जयदेव ठाकरे और उद्धव ठाकरे के बीच संपत्ति विवाद अब खत्म हो गया है।  शुक्रवार को जयदेव ठाकरे ने इस मामले में बॉम्बे हाईकोर्ट में दायर की गई अपनी याचिका को वापस ले लिया है।  मालूम हो कि जयदेव ने अपने पिता की 2011 में तैयार की गई वसीयत को अदालत में चुनौती दी थी। जयदेव ठाकरे के याचिका वापस लेने के बाद अब स्वर्गीय बालासाहेब ठाकरे की संपत्ति के वारिश उद्धव ठाकरे हो गये है।  


क्या था मामला

2012 में बाल ठाकरे की मौत हुई थी।  उसके बाद उनकी वसीयत सामने आई, जिसमें जयदेव को कुछ नहीं मिला था। उद्धव को बहुत कुछ, जयदेव की पूर्व पत्नी स्मिता को थोड़ा-बहुत और तीसरी पीढ़ी के बच्चों में केवल ऐश्वर्य को कुछ मिला था। तब जयदेव ने आरोप लगाया था कि मरते वक़्त बाल ठाकरे की मानसिक स्थिति ऐसी नहीं थी कि सब कुछ सही-सही बांट के जाएं।


क्या कहना है जयदेव का

दरअसल जयदेव अब इस मामले को आगे नहीं ले जाना चाहते है , लिहाजा उन्होने इस मामले को वापस ले लिया है। उनक कहना है उनकी इच्छा अब इस मामले को और आगे ले जाने की नहीं है।


यह भी पढ़ियेRSS की तीन दिन दिवसीय बैठक खत्म,राम मंदिर के लिए जमीन अधिग्रहण की मांग

संबंधित विषय