शादी का न्योता या फिर युति का निमंत्रण?

    Bandra
    शादी का न्योता या फिर युति का निमंत्रण?
    मुंबई  -  

    मुंबई – बीएमसी चुनाव के रिजल्ट आने के बाद बीजेपी और शिवसेना के रिश्तों में और भी खटास बढ़ गयी है। दोनों एक दूसरे पर आरोप प्रत्यारोप करते नजर आते हैं। दोनों ही पार्टियां महापौर पद के लिए अपनी अपनी गोटी फिक्स करने में लगे हुए हैं। बीजेपी के नेता और केन्द्रीय मंत्री नितिन गडकरी ने बयान दिया था कि बीजेपी और शिवसेना को मतभेद भूलकर युति कर लेनी चाहिए और बीएमसी की सत्ता पर काबिज हो जाना चाहिए। 

    इसी कड़ी में महाराष्ट्र बीजेपी के कैबिनेट मंत्री और उर्जा मंत्री चंद्रशेखर बावनकुले ने बुधवार को मातोश्री जाकर उद्धव ठाकरे से मुलाकात की। हालांकि इस मुलाकात को गैर राजनीतिक बताया गया, कहा गया कि बावनकुले अपने पुत्री की शादी का कार्ड देने के लिए मातोश्री आये हैं। लेकिन राजनीतिक गलियारों में हो रही चर्चा के अनुसार बावनकुले नितिन गडकरी के करीबी नेता माने जाते हैं और हो सकता है कि महापौर पद और युति से सम्बंधित मुद्दे पर चर्चा हुई हो। 

    बता दें कि इसके पहले भी बीजेपी महाराष्ट्र अध्यक्ष रावसाहेब दानवे भी अपने पुत्र के शादी का न्योता देने मातोश्री गये थे।

    Loading Comments

    संबंधित ख़बरें

    © 2018 MumbaiLive. All Rights Reserved.