महाराष्ट्र में बीजेपी नही बनाएगी सरकार, शिवसेना पर साथ न देने का आरोप

राज्यपाल ने बीजेपी को सोमवार शाम 8 बजे तक का समय दिया था।

SHARE

महाराष्ट्र में सत्ता को लेकर चल रही खिंचतान के बीच रविवार को राज्य के राज्यपाल भगत सिंह कोश्यारी ने बीजेपी को राज्य में सरकार बनाने के लिए आमंत्रित किया था। राज्यपाल ने बीजेपी को सोमवार शाम 8 बजे तक का समय दिया था। राज्यपाल के इस निमंत्रण के बाद रविवार को बीजेपी नेताओं के कोर कमिटी की लगातार दो बैठके हुई। इस बैठकों के बाद बीजेपी नेताओं ने राज्यपाल से मुलाकात की। राज्यपाल से रविवार को मुलाकात के बाद बीजेपी ने साफ किया कि वह राज्य में सरकार बनाने के लिए दवा पेश नही करेगी। इसके साथ ही बीजेपी ने शिवसेना पर साथ न देने की भी बात कही। 

आपको बतादे कि राज्य में हुए विधानसभा चुनाव में बीजेपी सबसे बड़ी पार्टी बनकर उभरी थी। बीजेपी को 105 सीटे मिली थी वही बीजेपी के साथ गठबंधन में रही शिवसेना को 56 सीट मिली।कांग्रेस को 44 सीट और एनसीपी को 54 सीट मिली। हालांकि परिणाम घोषित होने के साथ ही मुख्यमंत्री पद को लेकर शिवसेना बीजेपी में तनाव खड़ा हो गया। शिवसेना जहा मुख्यमंत्री पद के लिए ढाई ढाई साल की मांग कर रही है तो वही बीजेपी ने साफ कर दिया कि मुख्यमंत्री पद पर किसी भी तरह का कोई भी समझौता नही होगा। 50-59 के फार्मूले को लेकर दोनों पार्टीयों में तनाव इतना बढ़ा की मुख्यमंत्री देवेंद्र फडणवीस को अपने पद से इस्तीफा देना पड़ा। 

नही हुई थी 50-50 फॉर्मूले पर बात

जहा एक और शिवसेना राज्य में मुख्यमंत्री पद के लिए 50-50 फॉर्मूले की बात पर अड़ी हुई है तो वही दूसरी ओर पैड से इस्तीफा देने के बाद देवेंद्र फडणवीस में मीडिया को संबोधित करते हुए कहा कि मुख्यमंत्री पद को लेकर किसी भी तरह के 50-50 के फार्मूले पर बात नही हुई थी। इसके साथ  ही उन्होंने यह भी कहा की विधानसभा के चुनाव परिणाम घोषित होने के बाद उन्होंने उद्धव ठाकरे को कई फोन किये लेकिन उन्होंने एक भी फोन नही उठाया।


संबंधित विषय
ताजा ख़बरें