लाल बत्ती का मोह नहीं छोड़ पा रहे अमित शाह

 Thane
लाल बत्ती का मोह नहीं छोड़ पा रहे अमित शाह
लाल बत्ती का मोह नहीं छोड़ पा रहे अमित शाह
See all

केंद्र सरकार के फैसले के बाद भी नेताओं में लाल बत्ती का मोह जाता दिख नहीं रहा है, खुद भाजपा अध्यक्ष अमित शाह लाल बत्ती की चाह से मुक्त नहीं हो पाए हैं। यही वजह है कि जहां भाजपा के तमाम नेताओं, मुख्यमंत्री और मंत्रियों ने अपनी गाड़ी से लाल बत्ती हटा दी है, यहां तक कि राज्यपाल ने भी अपनी गाड़ी से लाल बत्ती हटवा दी है तो दूसरी तरफ वहीं भाजपा अध्यक्ष अमित शाह लाल बत्ती की गाड़ी में सैर कर रहे हैं।

केंद्र सरकार ने वीवीआईपी संस्कृति खत्म करने के लिए लाल बत्ती का इस्तेमाल बंद करने का निर्णय लिया है। 1 मई 2017 से यह नियम लागू हो जाएगा। भाजपा के अध्यक्ष अमित शाह के किसी भी पद पर नहीं होने के बावजूद सिर्फ जेड प्लस सुरक्षा के कारण वह अब भी लाल बत्ती की गाड़ी में फिर रहे हैं। दरअसल अमित शाह ठाणे में वीर सावरकर पर आधारित एक कार्यक्रम में प्रमुख अतिथि के रूप में पहुंचे थे। जहां वे लाल बत्ती की गाड़ी से उतरे। इसे लेकर सवाल उठने शुरू हो गए हैं कि जहां बीजेपी की केद्र सरकार ने लाल बत्ती शाही को खत्म किया है, वहीं उनकी पार्टी के अध्यक्ष खुद लाल बत्ती की गाड़ी से घूम रहे हैं।

Loading Comments