पांच साल में 1 करोड़ नौकरी -बीजेपी घोषणापत्र

घोषणापत्र में सुखा मुक्त महाराष्ट्र को पहली प्राथमिकता दी गई है

SHARE

आगामी विधानसभा चुनाव के लिए बीजेपी ने मंगलवार को मुंबई के रंगशारदा में  अपना घोषणापत्र जाहीर किया।  इस घोषणापत्र में सुखा मुक्त महाराष्ट्र को पहली प्राथमिकता दी गई है। इसके साथ ही राज्य में रोजगार पैदा करने के मुद्दे को भी घोषणापत्र में शामिल किया गया है।  राज्य को ट्रीलियन डॉलर इकोनोमी बनाने का भी मुद्दा घोषणापत्र में शामिल किया है। बीजेपी का कहना है की राज्य को  ट्रीलियन डॉलर इकोनोमी बनाने के लिए रोड मैप तैयार किया गया है। घोषणापत्र जारी करते समय बीजेपी के कार्यकारी अध्यक्ष जे पी नड्डा, मुख्यमंत्री देवेंद्र फड़णवीस , राज्य बीजेपी अध्यक्ष चंद्रकांत पाटील सहीत कई बीजेपी नेता मौजूद रहे। 

कार्यक्रम को संबोधित करते हुए बीजेपी के कार्यकारी अध्यक्ष जे पी नड्डा ने कहा की " मैं विश्वास के साथ कह सकता है की पिछलें पांच साल में देवेंद्र फड़णवीस ने राज्य की राजनीति को बदल दिया , उन्होने राज्य की छवि को बदल दिया, पांच साल पहले महाराष्ट्र भ्रष्टाचार से भरा था लेकिन आज महाराष्ट्र भ्रष्टाचार मुक्त बन गया है, बहुत समय बाद किसी मुख्यमंत्री ने अपना पांच साल का कार्यकाल पूरा किया है, घोषणापत्र में सबका साथ , सबका विकास और सबका विश्वास शामिल है"

गरीबो के लिए शिक्षा और इलाज पर जोर

घोषणापत्र में गरीबों के लिए शिक्षा और इलाज पर भी जोर दिया गया है।पश्चिम महाराष्ट्र के पानी को उत्तर के क्षेत्रों में पहुंचाना, मुलभूत सुविधा को लोगों तक पहुंचाना जैसे कई मुद्दों को इसमे शामिल किया गया है।

क्या क्या है मुख्य मुद्दे

आनेवाले पांच सालों में महाराष्ट्र सुखा मुक्त करना

कृष्णा कोयना व अन्य नदियों में बाढ़ के कारण बह जाने वाले अतिरिक्त पानी को पाश्चिम महाराष्ट्र के स्थायी सूखे भाग में लेकर जाना

मराठवाड़ा वाटर ग्रिड महत्वकांक्षी योजना के माध्यम से 11 बांधों को आपस में जोड़कर संपूर्ण मराठवाड़ा को पाइप लाइन से आपूर्ति करना

पश्चिम से बहने वाली नदियों के पानी को गोदावरी की घाटी से रुकवाकर मराठवाड़ा व उत्तर महाराष्ट्र के सूखाग्रस्त भाग में पहुंचाना

आने वाले 5 वर्षों कृषि में लगने वाली बिजली को सौर ऊर्जा पर आधारित करके किसानों को दिन में 12 घंटे से अधिक बिजली पहुंचाना सुनिश्चित करना

1 करोड़ परिवारों को महिला बचत समूह से जोड़कर  रोजगार के विशेष अवसर उपलब्ध करवाना

आने वाले पांच सालों में 1 करोड़ नौकरियों का निर्माण

2022 तक प्रत्येका घर को पीने का शुद्ध पानी उपलब्ध कराना

मूलभूत सुविधाओं के लिए केंद्र सरकार के सहयोग से 5 लाख करोड़ रुपये का निवेश 

राज्य की सभी सड़कों की स्थायी मरम्मत और देखभाल के लिए स्वतंत्र तंत्र 

ग्राम सड़क योजना के दूसरे चरण के माध्यम से 30 हजार किमी की ग्रामीण सड़कें

मुख्यमंत्री ग्राम सड़क योजना के माध्यम से सभी बस्तियों को 12 महीने चलने वाली सड़कों से जोड़ना

सभी प्रकार के कामगारो की पंजीकरण

शहीद जवानो के परिवार को पुर्नवसन करना

भारत नेट और महाराष्ट्र नेट के माध्यम से संपूर्ण महाराष्ट्र को इंटरनेट से जोड़ना

प्रधानमंत्री आयुष्मान योजना और महात्मा फुले जन आरोग्य योजना से कोई भी वंचित न रहे यह सुनिश्चित करना


संबंधित विषय
ताजा ख़बरें