2275 उम्मीदवारों की किस्मत पिटारे में होगी कैद

 Mumbai
2275 उम्मीदवारों की किस्मत पिटारे में होगी कैद
2275 उम्मीदवारों की किस्मत पिटारे में होगी कैद
2275 उम्मीदवारों की किस्मत पिटारे में होगी कैद
See all

मुंबई - कुछ ही घटों बाद वोटिंग शुरु हो जाएगी। प्रचार का तोहफा रविवार से ठंडा पड़ गया था। इस बीएमसी चुनाव 2275 उम्मीदवार अपनी किस्मत आजमा रहे हैं। कल 2275 उम्मीदवारों की किस्मत पिटारे में कैद हो जाएगी और 23 को नतीजे आ जाएंगे। मंगलवार को होने वाले बीएमसी चुनाव के लिए बीएमसी प्रशासन और चुनाव आयोग पूरी तरह से सज्ज हैं। मुंबई में 227 प्रभाग में होने वाले मतदान के लिए 1582 जगहों पर 7304 मतदान केंद्र तैयार किए गए हैं। मतदान सुचारु रूप से संपन्न हो इसके लिए 42,694 कर्मचारी वर्ग नियुक्त किए गए हैं। इस पूरी चुनावी प्रक्रिया के लिए 23 निर्वाचन निर्णय अधिकारी चुने गए हैं। प्रत्येक निर्वाचन निर्णय अधिकारी के हाथ में 8 से 13 प्रभागों की जवाबदारी सौंपी गई है। बीएमसी द्वारा वोटरों को चुनावी पर्ची दे दी गई हैं। 

संवेदनशील मतदान केंद्रों पर पुलिस की कड़ी नजर 

बीएमसी चुनाव में 17 अतिसंवेदनशील और 688 संवेदनशील मतदार केंद्र हैं। इन सभी संवेदनशील मतदान केंद्रों पर पुलिस की कड़ी नजर है। अतिसंवेदनशील केंद्रों के बाहर वेब कास्ट कैमरा लगाए गए हैं। इस तरह की जानकारी बीएमसी आयुक्त संजय देशमुख ने दी है। 

मतदान केंद्र के बाहर उम्मीदवारों का लेखा जोखा 

मतदान केंद्रों के बाहर पहली बार उम्मीदवारों की संपत्ति और अपराधी प्रवृत्ती का लेखा जोखा बैनर के माध्यम से दिखाया जाएगा।

चूहा मीटिग जोरों पर 

प्रचार लगभग रविवार को संपन्न हो गया था, सोमवार की रात से जिस प्रभाग में कंप्टीशन अधिक है वहां पर लोगों का रात के अंधेरे में मांडोली शुरु हो गई है। हलांकि इस पर चुनाव आयोग सीसीटीवी के माध्यम से जितना संभव हो रहा है, उतना नजर रखने की कोशिश कर रहा है। 

शिवसेना के सबसे अधिक उम्मीदवार 

बीएमसी के चुनाव में शिवसेना के सबसे अधिक अर्थात 227 उम्मीदवार मैदान में उतरे हैं, वहीं कांग्रेस ने 221, बीजेपी ने 211, मनसे ने 201, एनसीपी ने 171, बीएसपी ने 109, समाजवादी पार्टी ने 76, एआयएमआयएम ने 56, इसके अलावा अन्य मान्यता दल से 251, निर्दलीय 717 उम्मीदवार चुनावी मैदान में उतरे हैं। कुल 2275 उम्मीदवार की किस्मत का पिटारा 23 फरवरी को खुलेगा। 

Loading Comments