'अयोध्या में विवादित स्थान पर बनें राम-रहीम अस्पताल'

 CST
'अयोध्या में विवादित स्थान पर बनें राम-रहीम अस्पताल'

सीएसटी – पिछले अनेक सालों से अयोध्या में चल रहे राम मंदिर – बाबरी मस्जिद विवाद को लेकर कृति समिति ने एक पहल करते हुए मांग की है कि विवादित जमीन पर राम-रहीम के नाम से एक अस्पताल का निर्माण होना चाहिए।

मराठी पत्रकार संघ में पत्रकारों को संबोधित करते हुए समिति के राष्ट्रीय अध्यक्ष हेमन्त पाटिल ने कहा कि पिछले कई सालों से यह विवाद चल रहा है, इसमें अनेक जान माल का नुकसान हुआ है। सुप्रीम कोर्ट ने भी कोर्ट के बाहर आपसी समझौता के तहत फैसला लेने को कहा है। 

पाटिल ने आगे कहा कि आने वाले 29 मार्च को दिल्ली स्थित महाराष्ट्र सदन में एक मीटिंग का आयोजन किया जायेगा जिसमें हिंदू-मुस्लिम समाज के पक्षकारों सहित शैक्षणिक अधिकारी, समाजशास्त्री, उत्तरप्रदेश के मुख्यमंत्री, ओवैसी बंधू, मुस्लिम बोर्ड, स्वामी सुब्रमणयम जैसे लोगों को बुलाया जायेगा, जिसमें यह निर्णय लिए जायेगा कि अयोध्या में चल रहे मंदिर-मस्जिद विवाद को परे रख कर वहां सार्वजनिक अस्पताल का निर्माण किया जाए। इसके बाद 30 मार्च को कृति समिति की तरफ से कोर्ट में रिपोर्ट को प्रस्तुत किया जायेगा। जिसमें इस बात का जिक्र होगा कि विवादित जमीन को कोर्ट अपने कब्जे में लेकर वहां राम-रहीम के नाम से अस्पताल का निर्माण कराये।

समिति की इस मांग को क्या लोग मानकर अपना रुख नरम करेंगे यह 29 मार्च को ही पता चलेगा लेकिन कृति समिति की तरह ऐसी अनेक संस्थाएं और लोग हैं जो चाहते हैं कि वहां अस्पताल बनें जिसमें सभी लोगों का इलाज हो सके।

Loading Comments