सीएम फडणवीस ने अटकलों को किया खारिज, कहा- समय से पहले नहीं होंगे चुनाव

जिस तरह से मुख्यमंत्री धड़ाधड़ योजनाओं को पास कर रहे थे उसे देखकर यही लग रहा था कि आचार संहिता जल्द ही लग जाएगी, साथ ही कांग्रेस के प्रदेशाध्यक्ष अशोक चव्हाण ने भी बजट अधिवेशन में कहा था कि अधिवेशन के बाद विधानसभा भंग कर दी जाएगी और लोकसभा के साथ साथ विधानसभा चुनाव भी हो सकते हैं। इसीलिए इन अफवाहों को बल मिला!

SHARE

विधानसभा का समय पूर्व चुनाव कराने की अटकलों पर सीएम देवेंद्र फडणवीस ने पूरी तरह से विराम लगा दिया। गुरूवार सुबह से ही यह अफवाह फैली थी कि आज समय पूर्व चुनाव कराने से संबंधित सीएम कुछ घोषणा कर सकते हैं लेकिन सीएम ने ऐसा कुछ भी करने से इनकार कर दिया और तय समय पर ही चुनाव कराने की बात कही।

महाराष्ट्र के राजनीतिक गलियारों में गुरुवार सुबह से ही यह चर्चा थी कि दिल्ली में महाराष्ट्र और हरियाणा की विधानसभा को भंग करने की घोषणा की गई है। और साथ में इस बात की भी घोषणा की गयी है कि विधानसभा और लोकसभा चुनाव एक साथ कराया जा सकता है। लेकिन इन सभी बातों पर मुख्यमंत्री देवेंद्र फडणवीस ने पर्दा डालते हुए निराधार बताया और कहा की चुनाव समय से ही होंगे। पत्रकारों से बात करते हुए उन्होंने कहा कि, लिख कर ले लो, समय से पहले चुनाव नहीं होंगे।

आपको बता दें कि मुख्यमंत्री ने शुक्रवार को भी मंत्रिमंड़ल की बैठक का आयोजन किया। इस समय वे लगातार बैठकों का आयोजन कर रहे हैं साथ ही साथ वे कई योजनाओं का शिलान्यास, उद्घाटन और भूमिपूजन भी कर रहे हैं। यही नहीं पिछले हफ्ते हुई मंत्रिमंडल की बैठक में उन्होंने धुंआधार पारी खेलते हुए 22 योजनाएं पास की।

जिस तरह से मुख्यमंत्री धड़ाधड़ योजनाओं को पास कर रहे थे उसे देखकर यही लग रहा था कि आचार संहिता जल्द ही लग जाएगी, साथ ही कांग्रेस के प्रदेशाध्यक्ष अशोक चव्हाण ने भी बजट अधिवेशन में कहा था कि अधिवेशन के बाद विधानसभा भंग कर दी जाएगी और लोकसभा के साथ साथ विधानसभा चुनाव भी हो सकते हैं। इसीलिए इन अफवाहों को बल मिला!

संबंधित विषय