नाव हादसे को होगी जाँच- सीएम फडणवीस


SHARE

मुंबई के अरब सागर में शिवाजी स्मारक बनाने के दौरान हुए एक नौका हादसे को लेकर मुख्यमंत्री देवेंद्र फडणवीस ने इसकी जांच के आदेश दे दिए हैं। मुख्यमंत्री ने इसे एक गंभीर घटना बताते हुए बड़ा हादसा टलने की बात कहते हुए इसकी जांच के आदेश दिए। आपको बता दें कि शिवाजी स्मारक का काम बुधवार को ही शुरू हुआ था, और जो बोट दुर्घटनाग्रस्त हुई उसमे 25 लोग सवार थे जो उसी स्थान पर जा रहे थे जहां स्मारक का काम चल रहा था।

इस हादसे में एक शख्स की मौत होने की खबर आ रही है, हादसे के तत्काल बाद बचाव दल के रूप में कोस्टगार्ड के दो हेलीकॉप्टर सहित फायर ब्रिगेड के मौके पर रवाना कर दिया गया। यह हादसा बोट के एक पत्थर से टकराने के बाद हुआ जिसके बाद बोट पलट गयी, गनीमत रही कि वहां समय पर एक दूसरी बोट ने पहुंच कर सभी को बाहर निकाल लिया। 

इस बोट पर सवार लोगों ने बताया कि कार्यक्रम के लिए इतनी बड़ी संख्या में लोगों को बुलाया गया था लेकिन उसकी कोई व्यवस्था नहीं की गयी थी। सुरक्षा के भी कोई इंतजाम नहीं किये गए थे।

शेकाप के नेता जयंत पाटील ने कहा कि अव्यवस्था के कारण ही यह हादसा हुआ है। बोट पर क्षमता से अधिक लोगों को बैठाया गया था, साथ ही बोट का चालक भी अनुभवहीन था, क्योंकि दिपस्तंभ के करीब ही बोट पत्थर से टकराई थी, चालक को रास्ता खतरनाक होने की बात ही नहीं पता थी इसीलिए वह उसी रस्ते पर गया।


पढ़ें: शिवाजी स्मारक कार्य के दौरान समुद्र में बोट हुई दुर्घटनाग्रस्त, एक की मौत


कांग्रेस के प्रदेशाध्यक्ष अशोक चव्हाण ने कहा कि यह हादसा काफी दुर्भाग्यपूर्ण है। यह एक अपघात (दुर्घटना) है या घातपात, इसे लेकर संदेह है। विनायक मेटे ने शिव स्मारक के टेंडर को लेकर जो आरोप किया था और जिसकी जांच के आदेश देने के लिए मुख्यमंत्री से कहा था उसे लेकर ही शायद यह हादसे को अंजाम दिया गया हो। 

संबंधित विषय
ताजा ख़बरें