Coronavirus cases in Maharashtra: 441Mumbai: 235Pune: 48Islampur Sangli: 25Ahmednagar: 17Nagpur: 16Pimpri Chinchwad: 15Thane: 14Kalyan-Dombivali: 9Navi Mumbai: 8Vasai-Virar: 6Buldhana: 6Yavatmal: 4Satara: 3Aurangabad: 3Panvel: 2Kolhapur: 2Ulhasnagar: 1Ratnagiri: 1Sindudurga: 1Pune Gramin: 1Godiya: 1Jalgoan: 1Palghar: 1Nashik: 1Gujrat Citizen in Maharashtra: 1Total Deaths: 19Total Discharged: 42BMC Helpline Number:1916State Helpline Number:022-22694725

मुख्यमंत्री देवेंद्र फड़णवीस की मौजूदगी में हर्षवर्धन पाटिल बीजेपी में शामिल

हर्षवर्धन पाटिल कांग्रेस के बड़े नेताओ में से एक थे

मुख्यमंत्री देवेंद्र फड़णवीस की मौजूदगी में हर्षवर्धन पाटिल बीजेपी में शामिल
SHARE

राज्य के मुख्यमंत्री देवेंद्र फड़णवीस की मौजूदगी में बुधवार को गरवारे क्लब हाउस में बड़े नेताओं ने बीजेपी में प्रवेश किया इनमे से सबसे बड़े नाम हर्षवर्धन पाटिल का है।  हर्षवर्धन पाटिल ने कांग्रेस अलविदा कहकर बीजेपी में प्रवेश किया है।  मौके पर मुख्यमंत्री देवेंद्र फड़णवीस ने कहा की अभी और भी कई नेता है जो बीजेपी में प्रवेश करनेवाले है। 

क्या कहा हर्षवर्धन पाटिल ने?

कांग्रेस से बीजेपी में आये  हर्षवर्धन पाटिल ने कहा की "मैने बीजेपी में किसी भी तरह की कोई चाहत के साथ प्रवेश नही किया है, देश के प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी जी देशहित में जो फैसले लिए है चाहे वह कश्मीर से आर्टिकल 370 हटाना हो या फिर आवास योजना के तहत लोगो को घर देना, प्रधानमंत्री की कार्यपद्धति से प्रभावित होकर उन्होंने बीजेपी में प्रवेश किया है"


गणेश नाइक भी करेंगे प्रवेश 

नवी मुंबई में बीजेपी की बढ़ेगी ताकत

गणेश नाइक नवी मुंबई में एनसीपी का बड़ा चेहरा हुआ करते थे।  गणेश नाइक के साथ एनसीपी के 50 नगरसेवक भी बीजेपी में शामिल होंगे, जिसे देखते हुए अब नवी मुंबई में एनसीपी की ताकत कम होने और बीजेपी की ताकत बढ़ने का अंदेशा साफ लगाया जा सकता है। इसके साथ ही गणेश नाईक के बेटे संदीप नाईक पहले बीजेपी में शामिल हो गए हैं। गणेश नाईक 2004 से 2014 तक महाराष्ट्र विधानसभा के सदस्य रहे। वह पिछली सरकार में श्रम, आबकारी और पर्यावरण मंत्री थे।

सीट बंटवारे पर अभी सहमति नहीं

आपको बता दे की अभी तक महाराष्ट्र में सीट के बंटवारे को लेकर शिवसेना और बीजेपी में किसी तरह की कोई सहमति नहीं बनी है। लेकिन जिस तरह बीजेपी और शिवसेना में एक के बाद एक नेता आते जा रहे है उसे देखते हुए लग रहा है आनेवाले चुनाव के लिए दोनों ही पार्टियों ने अभी से ही ताकत झोक दी है।

संबंधित विषय
ताजा ख़बरें