क्या मुंबईकरों को ऑक्सीजन के लिए देने होंगे पैसे ?

दादर - बीएमसी चुनाव नजदीक देख राजनैतिक पार्टियों ने आश्वासनों की बौछार शुरु कर दी है, पर जनता किसे मौका देती है और कौन कितना वादों में खरा उतरता है, यह तो समय ही तय करेगा। चुनावी माहौल जितना गरमाया है उससे ज्यादा मुंबई प्रदूषण से झुलस रहा है। आखिर प्रदूषण का जिम्मेदार कौन है? कैसे कम होगा प्रदूषण? क्या उपाय किये जाने चाहिए? पर्यावरण से संबंधित मुद्दों पर चर्चा करने के लिए मुंबई लाइव के स्पेशल शो 'मुंबई नाका' में शिवसेना के नगरसेवक अवकाश जाधव, कांग्रेस प्रवक्ता राजू वाघमारे, बीजेपी प्रवक्ता निरंजन शेट्टी, पर्यावरण विशेषज्ञ राजेंद्र फातर्पेकर, कलाकार अजित भुरे और एनसीपी के पूर्व विधायक अशोक धात्रक उपस्थित हुए थे।

अशोक धात्रक ने बीजेपी और मुख्यमंत्री देवेंद्र फडणवीस पर निशाना साधते हुए कहा है कि सीएम अपनी टेक में अड़े हैं, जबकि कोर्ट ने भी कहा है कि मेट्रो के लिए पेड़ों की बली ना दी जाए। सीएम को चाहिए की वे अपनी टेक को साइड में रख मुंबईकरों के बारे में सोचें। वहीं अजित भूरे ने फेसबुक पर पूछे गए एक सवाल के जवाब में कहा कि हम मुंबईकरों की परेशानी को समझ सकते हैं पर ऐसा वक्त नहीं आएगा कि मुंबईकरों को ऑक्सीजन के लिए पैसे देने पड़ें।

Loading Comments