Advertisement
COVID-19 CASES IN MAHARASHTRA
Total:
58,76,087
Recovered:
56,08,753
Deaths:
1,03,748
LATEST COVID-19 INFORMATION  →

Active Cases
Cases in last 1 day
Mumbai
15,122
660
Maharashtra
1,60,693
12,207

शिवसेना नेता प्रताप सरनाईक के घर पर ईडी ने मारा छापा, बेटा हिरासत में

मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक, सिक्योरिटी कंपनी टॉप्स ग्रुप (Tops Group) से जुड़े प्रमोटरों और कुछ संबंधित लोगों पर छापेमारी की जा रही है, जिसमें कुछ राजनेता भी शामिल हैं।'

शिवसेना नेता प्रताप सरनाईक के घर पर ईडी ने मारा छापा, बेटा हिरासत में
SHARES

मनी लॉन्ड्रिंग (money laundering) के मामले में, प्रवर्तन निदेशालय (Enforcement Directorate) ने मंगलवार की सुबह शिवसेना (shivsena) नेता और विधायक प्रताप सरनाईक (pratap sarnaik) के घर और ऑफिस पर छापा मारा। ईडी (ED) के अधिकारियों ने सरनाईक के बेटे विहंग सरनाईक (vihang sarnaik) के घर पर भी छापा मारा और पूछताछ के लिए हिरासत में लिया।

शिवसेना विधायक प्रताप सरनाईक और उनके बेटे विहंग सरनाईक पर मनी लॉन्डरिंग केस में जांच चल रही है। सरनाईक से जुड़े मुंबई और ठाणे के कुल 10 ठिकानों पर ED ने छापेमारी कार्रवाई को अंजाम दिया।

मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक, सिक्योरिटी कंपनी टॉप्स ग्रुप (Tops Group) से जुड़े प्रमोटरों और कुछ संबंधित लोगों पर छापेमारी की जा रही है, जिसमें कुछ राजनेता भी शामिल हैं।'

छापे के बाद केंद्र सरकार पर शिवसेना (shiv sena) ने आरोप लगाया कि, मोदी सरकार (modi government) शिवसेना से बदला ले रही है।

शिवसेना के सांसद और प्रवक्ता संजय राउत (sanjay raut) ने बिना नाम लेते हुए कहा कि, पार्टी को अगले 25 सालों तक महाराष्ट्र में सत्ता पाने का सपना भूल जाना चाहिए। चाहे वो सरकारी एजेंसियों की ओर से चाहे कितना भी दबाव बनाएं या आतंक फैलाएं। उन्होंने आगे कहा कि, 'अगर आज आपने यह शुरू किया है, तो हम जानते हैं कि इसका अंत कैसे करना है?'

राउत ने बताया कि विधायक के घर पर तब छापेमारी की गई, जब वो घर पर नहीं थे। उन्होंने कहा, 'आप राज्य सरकार से जुड़े लोगों को मानसिक रूप से प्रताड़ित कर रहे हैं। यह सब कुछ आप पर उल्टा पड़ेगा और मुझे लगता है कि वो वक्त जल्द आ रहा है।'

शिवसेना ने BJP पर यह भी आरोप लगाया कि,  प्रताप सरनाईक ने अन्वय नाइक (anvay naik) की आत्महत्या के मामले अर्नब गोस्वामी (arnav goswami) और कंगना रनौत (kangana ranajit)के खिलाफ मुखर होकर बोला था, इसीलिए शिवसेना को डराने के लिए और उनकी आवाज दबाने के लिए यह बदले की कार्रवाई की जा रही है।

Read this story in English or मराठी
संबंधित विषय
Advertisement
मुंबई लाइव की लेटेस्ट न्यूज़ को जानने के लिए अभी सब्सक्राइब करें