Advertisement

मनसे को चुनाव आयोग ने भेजा नोटिस, शिवाजी के राजमुद्रा का दुरूपयोग करने का आरोप

मनसे के इस नए भगवा वाले झंडे के बीच में शिवाजी के राजमुद्रा को दर्शाया गया है, जिसे लेकर राज्य के कई संगठनों और राजनीतिक पार्टियों ने विरोध किया था और चुनाव आयोग में शिकायत दर्ज कराई थी।

मनसे को चुनाव आयोग ने भेजा नोटिस, शिवाजी के राजमुद्रा का दुरूपयोग करने का आरोप
SHARES


महाराष्ट्र नवनिर्माण सेना (Maharashtra Navnirman Sena) द्वारा अधिवेशन के दौरान जारी किये गये भगवा झंडा का विवाद थमता नजर नहीं आ रहा है। अब उस झंडे को लेकर राज्य चुनाव आयोग (State Election Commission) ने मनसे (MNS) को नोटिस भेजा है। मनसे के इस नए भगवा वाले झंडे के बीच में शिवाजी के राजमुद्रा को दर्शाया गया है, जिसे लेकर राज्य के कई संगठनों और राजनीतिक पार्टियों ने विरोध किया था और चुनाव आयोग में शिकायत दर्ज कराई थी। जिसके बाद अब चुनाव आयोग ने मनसे को नोटिस भेजा है।

क्या है मामला?

महाराष्ट्र नवनिर्माण सेना ने अभी हाल ही में अधिवेशन कार्यक्रम किया था। इस कार्यक्रम में उन्होंने भगवा झंडा लॉन्च किया था, इस झंडे में में शिवाजी के राजमुद्रा को भी दर्शाया गया था। 

झंडे के लॉन्चिंग के बाद इसका विरोध होने लगा। कई संगठन जैसे जय हो फाउंडेशन, संभाजी ब्रिगेड और ऑल इंडिया मराठा फेडरेशन ने राज्य के मुख्यमंत्री उद्धव ठाकरे और चुनाव आयोग से इस झंडे को लेकर शिकायत दर्ज कराई।

पढ़ें: सिर मुंडाते ही ओले पड़े, मनसे के नए झंडा का हो रहा विरोध, केस दर्ज करने की मांग

शिकायत के बाद राज्य निर्वाचन आयोग की सचिव किरण कुरुंदकर ने मनसे को नोटिस जारी किया। नोटिस में कहा गया है कि छत्रपति शिवाजी महाराज के राजमुद्रा का दुरूपयोग करने की बात खी गयी है।

इस बारे में बात करते हुए MNS के नेता शिरीष सावंत कहते हैं कि, हमें अभी तक राज्य चुनाव आयोग द्वारा भेजा गया नोटिस नहीं मिला है। हम केंद्रीय चुनाव आयोग द्वारा भेजे गए पत्र की एक प्रति को राज्य चुनाव आयोग को भेजेंगे। 

सावंत ने आगे कहा, किसी भी राजनीतिक दल के झंडे का मुद्दा चुनाव आयोग के दायरे में नहीं आता है। इसलिए जब यह मामला केंद्रीय  चुनाव आयोग के अधिकार में नहीं आता है, तो  राज्य निर्वाचन आयोग के दायरे में भी नहीं आएगा। हमने सभी नियमों का पालन करते हुए ही इस झंडे को लॉन्च किया है।

आपको बता दें कि मनसे का यह झंडा जब से लॉन्च हुआ है तभी से ही विवादों में ही फंसा हुआ है। अब देखना होगा कि नोटिस मिलने के बाद मनसे क्या रुख अपनाती है।

पढ़ें: मनसे का भगवा झंडा हुआ लॉन्च

Read this story in मराठी or English
संबंधित विषय
Advertisement