डाॅ. बाबासाहेब आंबेडकर के स्मारक की ऊंचाई बढ़ेगी 100 फीट

राज्य सरकार ने निर्णय लिया है कि इंदू मिल में बनने वाले डॉ. बाबा साहेब आंबेडकर स्मारक की ऊंचाई को 250 फुट से बढ़ा कर 350 फुट तक किया जाएगा।

SHARE

 

राज्य सरकार ने निर्णय लिया है कि इंदु मिल में बनने वाले डॉ. बाबा साहेब आंबेडकर स्मारक की ऊंचाई को 250 फुट से बढ़ा कर 350 फुट तक किया जाएगा। इस बाबत एक प्रस्ताव राज्य मंत्रिमंडल की बैठक में पेश किया जाएगा। अगर प्रस्ताव पास हो जाता है तो कार्य आगे बढ़ाया जाएगा।

साल 2011 में कांग्रेस और एनसीपी की आघाड़ी सरकार ने दादर के इंदु मिल इलाके में 5 एकड़ की जमीन पर डॉ. बाबासाहेब आंबेडकर का स्मारक बनाने की घोषणा की थी। जब राज्य में फडणवीस की सरकार आई तो पीएम नरेंद्र मोदी ने साल 2015 में यहां आकर स्मारक के भूमि पूजन का कार्य किया था, लेकिन तब से लेकर अब तक स्मारक के लिए एक भी ईंट नहीं रखी गयी है।

इसके बाद समय-समय पर स्मारक बनने की बात जोर पकड़ती रही, लेकिन काम आगे नहीं बढ़ सका. जब महाराष्ट्र में महा विकास आघाड़ी की नई सरकार बनी तो 3 जनवरी को उपमुख्यमंत्री अजीत पवार स्मारक के काम की समीक्षा करने के लिए इंदु मिल गए थे।

पवार ने उस समय पत्रकारों से बात करते हुए कहा कि, जल्द ही स्मारक के अनुमति कार्य में आने वाली सभी बाधाओं को दूर किया जाएगा। उन्होंने आगे कहा स्मारक का काम अगले 2 साल यानी 2022 सालों के अंदर पूरा हो जाएगा। इसके लिए सरकार धन की कमी नहीं होने देगी।

पढ़ें: शिवाजी महाराज स्मारक - शिवाजी महाराज की मुर्ति में नहीं होगा कोई बदलाव

अब जबकि सरकार द्वारा स्मारक की ऊंचाई 250 से बढ़ा कर 300 फुट करने का निर्णय लिया गया है तो जाहिर सी बात है कि स्मारक की लागत भी बढ़ेगी। अब स्मारक की लागत 700 करोड़ से बढ़ कर 990 करोड़ होने की बात कही जा रही है.  

इस स्मारक में डॉ. बाबासाहेब आंबेडकरर की पूरी प्रतिमा होगी साथ ही पुस्तकालय, भिक्षु निवास, विपश्यना, सभागार, पार्किंग, संग्रहालय सुविधायें होंगी।

पढ़ें: बाबा साहेब के स्मारक का काम 2022 में पूरा होगा - अजित पवार

संबंधित विषय
ताजा ख़बरें